एंथोनी ने बताया, ‘वह बाउंसर फेंकना पसंद करता था, लेकिन इस प्रक्रिया में वह एक ओवर में एक या दो बार चक (Chuck) करता था। इसी कारण मैंने उसे कभी भी जिला स्तर पर ट्रायल में नहीं जाने दिया। एक आरोप लगता और करियर खत्म हो जाता। उसकी इस कमी को ठीक करने में मुझे 4 साल लगे। कुलदीप ने एक रीमॉडेल्ड एक्शन के साथ 2018-19 सीजन में रणजी ट्रॉफी में डेब्यू किया। उसने 8 मैच में 25 विकेट हासिल किए।

सेक्स प्रोडक्ट बेचकर ये 5 महिलाएं बनीं करोड़प

नईदिल्ली,24सितंबर।भारतमेंसेक्सयाउससेसंबंधितबीमारियोंकेबारेमेंजाननेकेलिएयुवाओंकोगूगलकासहारालेनापड़ताहै।लोगक्याकहेंगे,इसडर