एक लड़की ने बताया कि पर्स में नकदी के अलावा पासपोर्ट भी रखा था। इसके अलावा कई जरूरी कागजात थे। लड़कियों ने बताया कि चाहे 20 किलोमीटर तक पीछा करना पड़ता, लेकिन वे बदमाशों को छोड़तीं नहीं।

सेवा भाव से चिकित्सक मरीजों का करें उपचार

जागरणसंवाददाता,ज्ञानपुर:लोगोंकोस्वास्थ्यसुविधामुहैयाकराएजानेवस्वस्थरहनेकीजानकारीदेनेकेउद्देश्यसोमवारकोविभिन्नविभागोंकीओर