Category Hierarchy

रोहतास[जेएनएन]।क्याकियाजाएसाहब!मंडीमेंटमाटरप्रतिरुपयेकिलोबिकरहाहै,जबकिउसपरढुलाईखर्चहीदोरुपयाआताहै।इसकेअलावापटवनवमेहनतानाखर्चअलगसेहै।दिनोंदिनडीजलवबिजलीमहंगीहोतीजारहीहै।ऐसीस्थितिमेंइसेबर्बादकरनेकेअलावाऔरकोईदूसराउपायभीनहींबचाहै।

कुछऐसाहीदर्दरविवारकोस्थानीयपोस्टऑफिसचौकपरसब्जीउत्पादककिसानटमाटरकोनष्टकरतेहुएछलका।नोखाकेकईकिसानोंनेआजमंडीलाएगएटमाटरकोबेचनेकेबजाएसड़कपरफेंककममूल्यमिलनेपरविरोधजताया।कहाकिअगरखाद्यप्रसंस्करणउद्योगलगाहोतातोशायदयहदिनउन्हेंदेखनेकोनहींमिलता।

टमाटरकाउचितदामनहींमिलनेसेनाराजसदरप्रखंडकेआकाशीगांवकेएकदर्जनसेअधिकसब्जीउत्पादककिसानोंनेखेतसेतोड़ेगएटमाटरकोपोस्टआफिसचौराहेपरगाडिय़ांचलाउसेनष्टकरनेकाकामकिया।रास्तेसेगुजरनेवालेहरकोईकिसानोंकीयहस्थितिदेखकुछसमयकेलिएचौकपरजरूरठहरजातेथे।

शिमलामिर्चसमेतकईप्रकारकीसब्जियोंकेअच्छेउत्पादकमानेजानेवालेकिसानअकाशीगांवनिवासीमनोजसिंहकहतेहैंकिएककिलोटमाटरकोतैयारकरउसेमंडीतकपहुंचानेमेंछहसेआठरुपयेखर्चआताहै।लेकिनबाजारमेंकीमतसिर्फएकरुपयाकिलोहीमिलताहै।ऐसीस्थितिमेंइसेनष्टनकिएजाएतोऔरक्या....?कहाकिदिनोंदिनडीजलमहंगेहोरहेहैंवबिजलीकीकीमतभीबढ़रहीरहीहै।सरकारसिर्फकिसानहितैषीबतारहीहै।लेकिनकिसानोंकेहितकेलिएकीगईघोषणाओंपरअमलनहींहुआ।खाद्यप्रसंस्करणउद्योगलगानेकीघोषणावर्षोंपूर्वहुईहै।मेगाफूडपार्ककाशिलान्यासभीतीनवर्षपूर्वयहांकियागया।लेकिननिर्माणअबतकनहींहोपाया।ऐसेमेंकिसानोंकीआमदनीकैसेबढ़ेगी।

गौरतलबहैकिकमोबेशयहीस्थितआकाशीहीनहींमनीपुर,मल्हीपुर,नोखा,बरांवसमेतजिलेकेअन्यगांवोंमेंटमाटरउत्पादनकरनेवालेकिसानोंकीहै।जिन्हेंआजखर्चकेअनुरूपआमदनीनहींहोरहीहै।उनकेलिएसब्जीकीखेतीकमरतोड़वमहंगीसाबितहोनेलगीहै।जिसकेकारणबच्चोंकीपढ़ाई-लिखाईसेलेकरपरिवारकाभरण-पोषणकाकार्यभीबाधितहोरहाहै।