Category Hierarchy

नईदिल्ली[जागरणस्पेशल]।वायुप्रदूषण,टीकाकरण,बढ़तामोटापासेलेकरइबोलावायरसतकवर्तमानमेंदुनियाकईस्वास्थ्यचुनौतियोंकासामनाकरकररहीहै।डब्ल्यूएचओ(विश्वस्वास्थ्यसंगठन)कीआधिकारिकवेबसाइटपर2019मेंस्वास्थ्यसंबंधितशीर्षदसवैश्विकखतरोंकीसूचीजारीकीगईहैजिसमेंइंसानोंपरपड़नेवालेउनकेस्वास्थ्यप्रभावोंकोलेकरचेतायागयाहै।सूचीकेमुताबिकदुनियाभरमेंहरसालकरोड़ोंलोगइनदसबीमारियोंकीचपेटमेंआकरमरजातेहैं।

वायुप्रदूषणडब्ल्यूएचओकेमुताबिकशीर्षदसस्वास्थ्यखतरोंमेंवायुप्रदूषणसबसेबड़ापर्यावरणीयखतराहै।दुनियामेंदसमेंसेनौलोगहरदिनप्रदूषितहवामेंसांसलेरहेहैं।विश्वमेंलगभग70लाखलोगहरसालकैंसर,स्ट्रोक,हृदयऔरफेफड़ोंसेसंबंधितबीमारियोंकीचपेटमेंआकरमरजातेहैं।वायुप्रदूषणऔरजलवायुपरिवर्तनसे2030से2050केबीच2.50लाखमौतेंअनुमानितहैं।

गैरसंक्रामकरोगसंक्रमणरोगोंकेखतरोंसेइतरदुनियाभरमेंहरसालतकरीबन70फीसदमौतेंगैरसंक्रामकरोगोंजैसेमधुमेह,कैंसरऔरहृदयकीबीमारियोंसेहोतीहैं,जोतंबाकूवशराबकेसेवन,बिगड़ीहुईजीवनशैली,शारीरिकनिष्क्रियता,गैरस्वास्थ्यकरखानपानऔरवायुप्रदूषणसेजन्मलेतीहै।हरसाल30से69सालकीउम्रके1.5करोड़लोगइनबीमारियोंकीचपेटमेंआकरमरजातेहैं।

एंटीबॉयोटिककाअधिकइस्तेमालदुनियाभरमेंलोगगैरजरूरीऔरछोटीमोटीशारीरिकपरेशानियोंमेंएंटीबॉयोटिकदवाओंकासेवनकरनेसेनहींचूकतेहैंजिसवजहसेशरीरपरइनकाअसरबंदहोजाताहै।नतीजतनसामान्यसंक्रमणऔरबीमारियांभीप्राणघातकबनजातीहैं।2000से2015केबीचविश्वमेंएंटीबॉयोटिकदवाओंकीमांगऔरबिक्री65फीसदतकबढ़ीहै।रिपोर्टकेमुताबिकदवाएंबेअसरहोनेसे2050तकएककरोड़मौतेंहोंगी।

इनफ्लूएंजामहामारीइनफ्लूएंजावायरसभविष्यमेंमहामारीकेरूपमेंसामनेआसकताहै।डब्ल्यूएचओसंभावितमहामारीकीवजहोंकापतालगानेकेलिएइनफ्लूएंजावायरसकेप्रसारकीलगातारनिगरानीकररहाहैजिसमेंउसकेसाथ114देशोंके153संस्थानशामिलहैं।

आपदाऔरसंकट1.6अरबसेअधिकलोग(तकरीबन1/5वैश्विकआबादी)सूखा,अकाल,संघर्षऔरविस्थापनजैसेसंकटग्रस्तस्थानोंपररहनेकेलिएमजबूरहै।प्राकृतिकआपदाओंऔरसंकटसेभागेलोगोंकीशरणार्थीशिविरोंमेंभूख,बीमारियोंऔरअपराधमेंजानचलीजातीहै।

इबोलादुनियाकेसबसेखतरनाकरोगोंमेंसेएकइबोलाएकसंकटबनाहुआहै।अफ्रीकाकेग्रामीणक्षेत्रोंसेफैलाइबोलामौजूदासमयमेंघनीआबादीवालेशहरीक्षेत्रोंमेंलोगोंकोचपेटमेंलेचुकाहै।इबोलाकेअलावा,वैज्ञानिकसंक्रमण,बुखार,जीका,निपाहवायरसकोलेकरभीचेताचुकेहैं।

टीकाकरणमेंसंकोचपहुंचमेंहोनेकेबावजूदटीकाकरणकरानेमेंसंकोचअंतरराष्ट्रीयस्वास्थ्यसमस्याबनचुकाहै।बीमारीसेबचावकेसबसेकिफायतीतरीकोंमेंसेएकटीकाकरणहरसाल20से30लाखमौतोंकोरोकताहै।इसप्रवृतिमेंसुधारलाकरइससाल15लाखमौतोंकोटालाजासकताहै।

प्राथमिकस्वास्थ्यसेवाओंकाअभावप्राथमिकस्वास्थ्यदेखभालएकव्यक्तिकेस्वास्थ्यसेसंबंधितजरूरतोंकोपूराकरसकतीहैऔरकईगंभीरबीमारियोंकीरोकथामहोसकतीहै।कईदेशोंमेंपर्याप्तप्राथमिकस्वास्थ्यदेखभालसुविधाएंनहींहैं।2018मेंजारीलैंसेटकीरिपोर्टकेमुताबिकनिम्नऔरमध्यमआयवालेदेशोंमेंअपर्याप्तप्राथमिकस्वास्थ्यदेखभालकीवजहसेहरसाल50लाखलोगोंकीमृत्युहोजातीहै।

डेंगूमच्छरोंजनितयेबीमारीपिछलेदोदशकोंसेखतराबनीहुईहै।डब्ल्यूएचओकेमुताबिकइससालडेंगूकेअनुमानित39करोड़मामलेसामनेआसकतेहैंऔरदुनियाकी40फीसदआबादीडेंगूकेखतरेमेंहैं।सहीसमयपरइलाजनमिलनेपरइनमेंसे20फीसदकीजानजासकतीहै।

एचआइवीलगभग2.2करोड़लोगवर्तमानमेंएचआइवीकाइलाजकरारहेहैं।3.7करोड़लोगदुनियाभरमेंएचआइवीसेपीड़ितहैंजिनमेंसे30लाखबच्चेऔरकिशोरहैं।यूनिसेफकीरिपोर्टकेमुताबिकदुनियाका2030तकबच्चोंऔरकिशोरोंकेबीचएड्सकोखत्मकरनेकाप्रयासपटरीपरनहींहैं।

यहभीपढ़ें-एकबारफिरचर्चामेंहैबांग्लादेशका28वर्षीयट्रीमैन,पहलेभी25बारहोचुकीहैसर्चरीEVMHacking:सचयासाजिश,जानें-कैसेअपनेहीदांवोंमेंउलझतीजारहीकांग्रेसक्याप्रथमप्रधानमंत्रीजवाहरलालनेपहलेकुंभमेंस्नानकियाथा,जानें-वायरलफोटोकासचआपकेटूटेयाकटेबालोंकीकीमतहै2000रुपयेकिलो,टॉप10निर्यातकोंमेंहैंभारत-पाक