Category Hierarchy

संवादसहयोगी,चड़वाल:बारिशनहोनेसेकंडीक्षेत्रकेकिसानगेहूंकीबिजाईकीतैयारीनहींकरपारहेहैं।किसानोंकाकहनाहैकिदोमाहसेजमीनेंखालीपड़ीहैं।उन्होंनेजमीनोंकीबाढ़ोंकीछांगतराशीकरसाफसुथरीकररखीहै,अबसिर्फबारिशकाइंतजारहै।जैसेहीबारिशहोतीहैहलचलाकरगेंहूकीबिजाईकीजाएगी।अगरजल्दबारिशनहींहोतीहैतोगेहूंकीफसलोंकेलिएजमीनसमयपरतैयारनहींहोपाएगी।क्षेत्रनिवासीकिसानमोहनलाल,अशोककुमार,राजेशकुमारनेबतायाकिकंडीक्षेत्रमेंंिसचाईकेलिएनतोकुदरतीजलस्रातहैऔरनहीसरकारद्वारासिंचाईकीउचितव्यवस्थाकराईगईहै,जिसकारणक्षेत्रकेकिसानोंकोबारिशपरनिर्भररहनापड़ताहै।उन्होंनेकहाकिअगरसिंचाईस्रोतउपलब्धहोंतोकंडीक्षेत्रकीजमीनेंगेहूंकीफसलकेलिएकाफीबेहतरहैं।किसानोंनेकहाकिअगरसरकारप्रयासकरेतोसमस्याकाकाफीहदसमाधानहोसकताहै।क्षेत्रबहनेवालेसभीबरसातीनालेकंडीक्षेत्रसेहीनिकलतेहैं।जिनकापानीव्यर्थबहकरपाकिस्तानकीओरचलाजाताहै।अगरसरकारइननालोंपरचैकडैमबनवाएतोकिसानोंकोराहतमिलसकतीहै।गौरतलबहैकिकृषिविभागकेदियालाचकसबडिवीजनमेंकरीब19हजारहेक्टेयरजमीनसिंचाईकेलिएबारिशपरनिर्भररहतीहै।