Category Hierarchy

सुपौल।अगरआपयहसमझतेहैंकिबालूसेभरेभूमिभीभलाकिसीकीकिस्मतचमकापाएगीतोयहसोचबदललीजिए।कड़ीमेहनतवकठोरपरिश्रमकेबलपरराघोपुरप्रखंडकेबायसीपंचायतएवंपरमानंदपुरपंचायतकेअड़राहागांवकेकिसानोंनेऐसाकरकेदिखादियाहै।उनकीमेहनतवजज्बाआसपासकेगांवोंकेकिसानोंकेलिएभीमिसालबनगयाहै।बायसीपंचायतसेहोकरबहनेवालीस्कैपचैनलकेपूरबरेतीलेजमीनपरतथाअड़राहागांवमेंपरवलकीखेतीकरयहांकेकिसानोंनेखुशहालीकीराहपकड़लीहै।हालांकिरोगकेप्रकोपअधिकहोनेसेउपजपरतोअसरपड़ाहै,लेकिनफिरभीपूरीतन्मयतासेजुटेहुएहैं।करीब15-20वर्षपूर्वबायसीकेकुछकिसानोंद्वाराशुरूकीगईपरवलकीखेतीनेऐसारंगदिखायाकिदेखते-हीदेखतेदर्जनोंकिसानोंनेइसकोअपनालिया।आजलगभग15-20एकड़मेंलहलहातेपरवलकेपौधेइनकीकामयाबीकोखुदबयांकररहेहैं।वहींअड़राहागांवमेंभीकरीबपांचएकड़जमीनमेंपरवलकीखेतीशुरूकीगईहै।बाजारवादकेइसयुगमेंआजयहांकेपरवलदूर-दूरतकइनकीख्यातिफैलारहेहैं।कलतकएक-एकपैसेकेलिएमोहताजयहांकेकिसानोंनेआजअपनीमेहनतएवंजज्बेकेबदौलतसमृद्धिकीराहपकड़लीहै।बायसीगोठकेकिसानपशुपतिझा,संजयझा,मणिकांतमिश्र,मनबोधमिश्र,उपेंद्ररामएवंअड़राहाकेकिसानबबलूझानेबतायाकिनवंबर-दिसंबरमेंलगाएजानेवालेपरवलकेपौधेमार्च-अप्रैलकेमहीनेसेफलनाशुरूहोजाताहै।जैसे-जैसेबारिशकीशुरुआतहोतीहैइसकीउपजभीबढ़नेलगतीहै।फिरनवंबर-दिसंबरतकपरवलसेआमदनीहोतीरहतीहै।किसानोंनेबतायाकिअगररोगकाप्रकोपनहींहोतोअच्छीतरहपरवलकीखेतीहोनेपरएकएकड़भूमिसे

सालानाकरीब60से70हजारतककीआमदनीहोजातीहै।किसानोंनेबतायाकिकृषिकेदूसरेव्यापारमेंइतनापैसानहींमिलता,जितनासब्जीकेकारोबारमेंमिलताहै।बेटेकीपढ़ाईसेलेकरबेटीकीशादीतककाजरियाबनापरवलकिसानोंनेबतायाकिजिससमयपरवलकीखेतीनहींकरतेथेतोउससमयउनकीआर्थिकस्थितिकाफीदयनीयथी।एक-एकरुपयेकेलिएदूसरोंकामुंहदेखनापड़ताथा,लेकिनआजपरवलकीखेतीनेसमृद्धिकीराहपकड़ादीहै।किसानोंनेबतायाकिअबपरवलकीखेतीकेबदौलतवोअपनेपरिवारकीपरवरिशभीअच्छीतरहकररहेहैं।साथहीअपनेबच्चोंकोपरदेशमेंउच्चशिक्षाभीदिलारहेहैं।इतनाहीनहींअबबेटीकीशादीहोयाअन्यकोईप्रयोजनउसमेंभीकिसीतरहकीदिक्कतनहींहोतीहै।सरकारीमददकीदरकारकिसानसतीशमिश्र,जयप्रकाशमिश्र,विनोदानंदझा,बबलूझा,विकासझा,रंजीतझाआदिनेबतायाकिएकतरफतोसरकारकृषिकोबढ़ावादेनेकेलिएव्यापकस्तरपरयोजनाएंलागूकरनेकीबातेंकरतीहैं।वहींयहांकेकिसानोंमेंइसबातकोलेकरमायूसीहैकिसरकारीस्तरपरआजतकउन्हेंकुछसहारानहींमिलपारहाहै।अगरकृषिवैज्ञानिकोंकीउचितसलाहमिलतेरहेतोज्यादाउपजहोगी।किसानोंनेबतायाकिखेती-किसानीकेसाथ-साथसब्जीउत्पादनबढ़ानेकेलिएसंसाधनएवंतकनीकीमार्गदर्शनअगरसरकारीस्तरपरसुलभकराकरउन्हेंलगातारप्रोत्साहितकियाजायतोयहप्रयासकाफीकारगरसाबितहोगा।किसानोंकोसबसेअधिकचितासिचाईकेलिएहोतीहै।अगरसरकारयहांएक-दोनलकूपकीव्यवस्थाकरदेतोउनकीआमदनीमेंऔरचार-चांदलगजाएगा।