Category Hierarchy

डॉचंद्रभूषणशशि,छपरा:जिलेमेंरबीफसलसहायतायोजनाकेलिएऑनलाइनआवेदनकरनेवालेकिसानोंकोसमयपरसहायताकीराशिमिलनेमेंसंशयहै।यहांआवेदनोंकेसत्यापनकीरफ्तारइतनीधीमीहैकिछहमहीनेमेंभीपूराहोनेकीउम्मीदनहींदिखरहीहै।इसकापताइसबातसेहीचलताहैकिजिलेमेंसवालाखसेअधिककिसानोंकेआवेदनमेंसेअबतकमहजतीनफीसदकासत्यापनहीहोसकाहै।

जिलेकेकुल1लाख26हजार918किसानोंनेसहायताराशिकेलिएआवेदनकियाथा।उनमेंसेअभीतककेवल3704कासत्यापनहोसकाहै।इसदौरानकुल121रैयतऔर96गैररैयतकिसानोंसहितकुल217केआवेदनअस्वीकारकरदिएगएहैंहै।हालांकिराज्यसरकारनेअस्वीकृतआवेदनोंकेसंदर्भमेंकिसानोंकोफिरसेऑनलाइनदावाकरनेकाअवसरदियाहै।

20प्रखंडोंवालेसारणजिलेकेकेवलचारप्रखंडोंमेंकिसानोंकेऑनलाइनआवेदनकीसंख्या10हजारकेउपरहै।इसमेंसर्वाधिक14हजार129आवेदनदरियापुरप्रखंडसेहै।दूसरेनंबरपर12हजार813बनियापुर,तीसरे11हजार152गड़खाएवंचौथेस्थानपर10हजार90आवेदनोंकेसाथपानापुरप्रखंडहै।सबसेकम1081आवेदनदिघवाराप्रखंडमेंहैं।वहीं2293रिविलगंजऔर2389आवेदनमशरकप्रखंडसेजमाहुएहैं।दावेकीजांचएवंसत्यापनकेकार्यमेंसारणजिलाअभीभीकाफीपीछेहै।लेकिनतीनप्रखंडोंमढ़ौरा,मशरकऔरलहलादपुरमेंअभीतकतोआवेदनसत्यापनकीसंख्याशून्यहै।

किसानोंकाकहनाहैकिऐसेमेंतोछहमहीनेमेंसत्यापनकाकामभीपूरानहींहोपाएगा,फिरसहायताराशिकबमिलेगी।जिलेकेनौप्रखंडऐसेहैंजहांसत्यापनकाआंकड़ाएकसौसेभीकमहै।अबतककेआंकड़ेकेमुताबिकसोनपुरमें11,तरैयामें15,नगरामें21,रिविलगंजमें25,मकेरमें25,छपरासदरमें32,बनियापुरमें84,जलालपुरमें97औरदिघवारामें98आवेदनोंकीहीजांचहोसकीहै।जिलेमेंसर्वाधिक848आवेदनोंकीजांचइसुआपुरप्रखंडमेंहुईहै।इसकेअलावापानापुरमें635,परसामें554,दरियापुरमें344,गड़खामें288,अमनौरमें258,एकमात्रमें245औरमांझीमें124आवेदनोंकासत्यापनहुआहै।वर्जन-

ऑनलाइनआवेदनकेसत्यापनकीरफ्तारमेंचुनावकेकारणकमीआगईथी।अबइसेतेजीसेपूराकरानेकाप्रयासकियाजारहाहै।इसकेलिएजिलापदाधिकारीकेस्तरसेभीमॉनिटरिगजारहीहै।उम्मीदहैकाफीकमसमयमेंसभीसवालाखदावेकीजांचएवंआवेदनोंकासत्यापनकरालियाजाएगा।