Category Hierarchy

धनंजयमिश्रा,नईदिल्ली।अपनीउसगलतीपरबार-बारखुदकोकोसताहूंजबपैसेकीजरूरत,लालचनेमुझेअपराधकेअंधकारमेंधकेलदियाथा।सरेआमचेनस्नैचिंगकरबैठाथा,लेकिनकहतेहैंकिजिंदगीऔंधेमुंहगिरातीहैतोउठनाभीसिखातीहै।हां,इसबारहाथथामनेवालेवर्दीधारीपुलिसकर्मीहैं।जिन्होंनेमेरेभीतरकेअपराधसेइतरभीमुझेसमझाऔरआजमहामारीजैसेसंकटमेंअस्पतालोंमेंदूसरोंकीसेवाकाअवसरदिया।यहकहानीकिसीएकयुवाकीनहींहै,ऐसेसैकड़ोंयुवाओंकीहैजिन्हेंदिल्लीपुलिसनेअपनीएकप्रेरकमुहिमकेतहतसमाजकीमुख्यधारामेंलाकरस्वास्थ्यऔरसामाजिकसरोकारसेजोड़ा।साथमें,रोजगारभीदियाताकिआर्थिकलाचारीमेंइनकेकदमफिरनभटकें।

तैयारकिएकोरोनायोद्धा

कोरोनाकालमेंदिल्लीपुलिसने'युवा'योजनाकेतहतएकहजारसेअधिकयुवाओंकोप्राथमिकस्वास्थ्यकर्मीकाप्रशिक्षणदेकरबेहतररोजगारमुहैयाकरायाहै।इनमेंअधिकतरऐसेयुवाहैं,जिनकेपरिवारकीआर्थिकस्थितिखराबहै।कुछऐसेभीहैं,जोआर्थिकजरूरतों,गलतसंगतकेकारणभटककरअपराधकीराहपरचलेगएथे।इसवर्षअबतक1,049युवकवयुवतियोंकोनिशुल्कप्रशिक्षणदिलायाजाचुकाहै।इनमें130युवाओंकोरोजगारभीमुहैयाकरायागयाहै।

आजयेयुवामहामारीकीतीसरीलहरसेनिपटनेकोफ्रंटलाइनवर्कर्सबनकरदिल्ली-एनसीआरकेबड़ेअस्पतालोंवपैथालाजीलैबमेंकामकररहेहैं।जहांउन्हें12हजारसे20हजाररुपयेतकमासिकवेतनभीमिलरहाहै।दिल्लीपुलिसकीप्राथमिकस्वास्थ्यसेवामेंनिपुणऐसेदसहजारयुवाओंकीफौजतैयारकरनेकीयोजनाहै।

पुलिसनेकियाअस्पतालों-लैबसेसंपर्क

युवापहलसेजुड़ेपुलिसउपायुक्त(डीसीपी)चिन्मयबिस्वालनेबतायाकिकोरोनाकीदूसरीलहरमेंबहुतभयावहहालातदेखे।पूरास्वास्थ्यढांचाचरमरागयाथा।स्वास्थ्यकर्मियोंकीकमीकासंकटथा।तबउसीसमयइसमोर्चेकोसंभालनेकीजिम्मेदारीली।अबअगस्तमाहकेअंततकतीसरीलहरकेआनेकीभीआशंकाजताईजारहीहै।ऐसेमेंपिछलीचुनौतियोंसेसबकलेकरआगेबढऩाहै।

इनयुवाओंकोअस्पतालोंसेजोड़नेकेलिएहमनेअपनेहीस्तरपरनिजीअस्पतालोंवपैथालाजीलैबसेसंपर्ककिया।उन्हेंइसकेलिएतैयारकियाऔरप्रशिक्षणकामहाअभियानशुरूहुआ।इसकेलिए10वींऔर12वींपासबेरोजगारयुवाओंकोतलाशागया।चेनस्नैचिंग,झपटमारीजैसेअपराधकरनेवालोंकीभीमानसिकस्थितिकोहमनेसमझाऔरउनकेअपराधकेकारणोंकाआकलनकरतेहुएसामाजिकसरोकारकेसाथरोजगारसेजोड़ा।इसकेबहुतअच्छेपरिणामआएहैं।दिल्लीमेंअभी23प्रशिक्षणकेंद्रसंचालितहोरहेहैं।

अस्पतालोंमेंयेलेरहेप्रशिक्षण

-अग्रिमपंक्तिकेकोविडस्वास्थ्यकर्मी

-सामान्यड्यूटीसहायक

-आपातस्वास्थ्यटेक्नीशियन

-घरेलूस्वास्थ्यसहायककर्मी

इनकार्योंमेंहोरहेनिपुण

-कोरोनासंक्रमितमरीजोंकारक्तचाप,शुगर,शरीरकातापमानमापना

-आक्सीजनवमास्कलगानातथाउसकेस्तरकीजांचकरना

-भापदेनेकीप्रक्रिया

-चिकित्सकोंकेसाथसमन्वय

-घरेलूस्वास्थ्यसहायककाकार्य

प्रशिक्षणकेबादयहांकररहेकाम

-सेवाभारतीडायग्नोस्टिकसेंटर

-फोर्टिसअस्पताल

-सरोजग्रुपआफहास्पिटल

-महाराजाअग्रसेनअस्पताल

-एसकेएससुपरस्पेशियलिटीअस्पताल

-संतपरमानंदअस्पताल

-तीरथरामअस्पताल

सभीयुवाओंमेंसीखनेकीललकहै।प्रशिक्षणकेदौरानउन्हेंसिखानेमेंकोईसमस्यानहींहुई।पुलिसकेसहयोगसेबेरोजगारयुवाओंकोरोजगारकेसाथसेवाकरनेकाअवसरभीप्राप्तहोरहाहै,यहबहुतसराहनीयहै।संक्रमणकीसंभाविततीसरीलहरमेंइनफ्रंटलाइनवर्कर्सकेसहयोगसेस्वास्थ्यविभागकीस्थितिऔरबेहतरहोजाएगी।

-ब्रिगेडियरएमखजुरिया,कार्यपालकनिदेशक,सरोजग्रुपआफहास्पिटल

दिल्लीपुलिसकेसहयोगसेनकेवलमुझेफार्मेसीकाप्रशिक्षणमिला,बल्किएकअच्छीनौकरीभीमिलीहै।दिल्लीपुलिसकीयहयोजनायुवाओंकोएकबेहतरप्लेटफार्मउपलब्धकरारहीहै।

-करिश्माहांडा,केशवपुरम

आर्थिकलाचारीकेचलतेकदमअपराधकीओरबढ़गएथे,लेकिनपुलिसनेहाथथामकरउसदलदलसेनिकाललिया।आज15हजाररुपयेमासिककीनौकरीकरअपनेपरिवारकाभरणपोषणकरपारहाहूं।

-आदित्यकुमार(बदलाहुआनाम)

गरीबीऔरगलतसंगतकेकारणभटकगयाथा,दोस्तोंकेसाथमिलकरचोरीजैसेकामकिएलेकिनजिसपुलिसनेइसगलतीकेलिएपकड़ाआजउसीकेमाध्यमसेआत्मसुधारकेसाथसामाजिकसरोकारसेभीजुड़नेयोग्यबनसका।यहमेरेजीवनमेंबहुतबड़ाबदलावहै।अबमैंलोगोंकीसेवाकरनेकेसाथहीअपनीआर्थिकबदहालीभीदूरकरपारहाहूं।

-रामू(बदलाहुआनाम)