Category Hierarchy

लैंसडौन,अनुजखंडेलवाल।पांचमई1887कोलेफ्टिनेंटकर्नलईपीमेनवारिंगकेनेतृत्वमेंकुमाऊंक्षेत्रकेअल्मोड़ामेंगढ़वालराइफल्सकीपहलीबटालियनकागठनहुआ,जिसमेंछहकंपनियांगढ़वालीजवानोंकीवदोकंपनियांगोरखाराइफल्सकीथी।चारनवंबर1887कोयहबटालियनगढ़वालक्षेत्रमेंकालोंडांडापहुंचीऔरकालोंडांडामेंडेराडालदिया।वक्तबीताऔरकालोंडांडाकानामतत्कालीनवॉयसरायकेनामपरलैंसडाउनकरदिया।1892मेंआधिकारिकरूपसेगढ़वालराइफल्सकोपहचानमिलीवलैंसडौनगढ़वालराइफल्सरेजीमेंटलकामुख्यालयबनगया।देशआजादहुआ,लेकिनलैंसडौननगरीमेंआजभी1924मेंबनावहीकैंटकानूनचलरहाहै,जिसेफिरंगीदेकरगएथे।कैंटएक्टकेरूपमेंआजभीपर्यटननगरीलैंसडौनकीसातहजारसेअधिकआबादीफिरंगीकानूनोंसेआजादहोनेकोछटपटारहीहै।

देशकोआजादीहुए72वर्षहोगएहैं,लेकिनकैंटक्षेत्रलैंसडौनकीजनताआजभीफिरंगीशासनकालमेंबनाएकैंटएक्टकीगुलामीकेतालेमेंबंदहोकररहगईहै।नतीजा,पर्यटननगरीमेंजहांबेहतरपर्यटकसुविधाएंनहींजुटपारहीहैं,वहींक्षेत्रकीजनताकोसरकारीयोजनाओंकालाभनहींमिलपारहा।बतानाजरूरीहैकिआजादीकेबादपहलीबार2006मेंएक्टमेंकुछसंशोधनतोकिएगए,उनसंशोधनोंमेंकैंटकेमुख्यअधिशासीअधिकारीकेअधिकारहीबढ़ाएऔरजनताकोकोईराहतनहींमिली।हालांकि,रक्षामंत्रालयकीओरसेसातसदस्यीयकमेटीकागठनकियागयाहै,जोकिकैंटक्षेत्रोंमेंकैंटवासियोंकीसमस्याओंऔरकैंटबोर्डकीधरातलीयस्थितिकेबारेमेंशासनकोअपनीरिपोर्टदेगा।क्षेत्रकीजनताकोउम्मीदहैकिसमितिकीरिपोर्टकेबादउन्हेंकैंटकानूनसेआजादीमिलजाएगी।

क्याहैकैंटबोर्ड

कैंटबोर्डअर्थातछावनीपरिषद।गुलामीकेदौरमेंब्रिटिशसरकारनेसैनिकछावनियोंसेसंबद्धसिविलक्षेत्रकोछावनीक्षेत्रमेंशामिलकरछावनीप्राधिकरणकागठनकिया।उसदौरमेंकैंटमजिस्ट्रेटकैंटसेसंबंधितविवादोंपरअदालतलगाकरमामलोंकोनिपटातेथे।1924मेंछावनीप्राधिकरणकानामबदलकरछावनीपरिषदरखागया।हालांकिलैंसडौनछावनीकीस्थापना1887मेंहोगईथी,लेकिनयहांमार्च1929मेंविधिवतछावनीपरिषदकागठनकियागया।छावनीपरिषदसिविलक्षेत्रकीजनताकोमूलभूतसुविधाएं,जल,सफाई,चिकित्सा,शिक्षा,पथप्रकाश,केअलावाभूमिप्रबंधनएवंप्रशासनिकव्यवस्थाओंकाकामकरताहै।

यहहैंलैंसडौनवासियोंकीसमस्याएं

कैंटबोर्डमेंजनसमस्याओंकीप्रभावीढंगसेपैरवीनहोना,नोटिफिकेशनसेलेकरभवनमानचित्रमंजूरकरवाना,राज्यसरकारकीहोमस्टेयोजनाकाकैंटक्षेत्रमेंलागूनहोना,पार्किंग,शौचालय,पेट्रोलपंप,संचारवपेयजलजैसीमूलभूतसुविधाओंकाअभाव,विदेशीपर्यटकोंकाछावनीक्षेत्रमेंरात्रिविश्रामनकरपानेसहितकईअन्यसमस्याएंहैं।साथहीकैंटक्षेत्रकेबीपीएलवएपीएलपरिवारसरकारकीयोजनाओंकेलाभसेवंचितरहतेहैं।कैंटकानूनोंकेकारणनगरकाविस्तारभीनहींहोपारहा।

कैंटकानूनहटेतोहोंगेफायदे

यदिछावनीक्षेत्रकोसिविलक्षेत्रघोषितकरदियाजाताहैतोकैंटक्षेत्रकीजनताकोगुलामीकेकैंटएक्टसेछुटकारामिलजाएगा।राज्यसरकारकीयोजनाओंकासीधेरूपसेलाभमिलनेकेसाथहीयहांमूलभूतसुविधाओंकाभीविस्तारहोसकेगा।विधायकवसांसदनिधिनगरकेविकासमेंउपयोगमेंलाएजानेकेसाथहीनगरमेंआवासीयसुविधाएंबढऩेसेपलायनकीसमस्यापरभीरोकलगेगी।कईदशकोंसेचलेआरहेनामांतरण,नोटिफिकेशन,लीजरिन्यूकेमुद्देभीआसानीसेनिस्तारितहोंगे,जिससेपर्यटनकेक्षेत्रमेंनगरकाचहुंमुखीविकासहोगा।

यहभीपढ़ें:इनगांवोंमेंआठवींसेआगेनहींपढ़पातीहैंबेटियां,जानिएवजह

यहभीपढ़ें:68वर्षोंमेंसिर्फपांचफीसदमहिलाओंकोहीमिलाअवसर,पढ़िएपूरीखबर