Category Hierarchy

व्लादिवोस्तोक(रूस),चारसितंबर(भाषा)प्रधानमंत्रीनरेंद्रमोदीनेरूसकेराष्ट्रपतिव्लादिमीरपुतिनकेसाथबुधवारकोज्वेज्दापोतनिर्माणपरिसरकादौराकियाऔरउसकेप्रबंधकोंएवंअन्यकर्मियोंसेबातचीतकी।दोदिवसीययात्रापररूसपहुंचेमोदीरूसकेराष्ट्रपतिकेसाथशिखरवार्ताकरेंगेऔर‘पूर्वीआर्थिकमंच’मेंशामिलहोंगे।मोदीरूसकेपूर्वीसुदूरक्षेत्रकीयात्राकरनेवालेपहलेभारतीयप्रधानमंत्रीहैं।प्रधानमंत्रीमोदीकेयार्डकेदौरेकेसमयपुतिनभीउनकेसाथथे।ज्वेज्दायार्डजानेसेपहलेदोनोंनेताओंनेएकदूसरेकोगलेलगायाऔरहाथमिलाया।विदेशमंत्रालयकेप्रवक्तारवीशकुमारनेट्वीटकिया,‘‘भारत-रूसकेसंबंधोंकीतेजबयारचलरहीहै।प्रधानमंत्रीनरेंद्रमोदीऔररूसकेराष्ट्रपतिपुतिननेज्वेज्दापोतनिर्माणपरिसरजातेसमयएकपोतपरएकदूसरेकेसाथअच्छासमयबिताया।’’मोदीनेसंयंत्रकेप्रबंधकोंऔरअन्यकर्मियोंसेभीबातचीतकी।कुमारनेट्वीटकिया,‘‘प्रधानमंत्रीनरेंद्रमोदीऔरराष्ट्रपतिपुतिननेज्वेज्दापोतनिर्माणपरिसरकादौराकिया।पोतनिर्माणजैसेसहयोगकेनएक्षेत्रभारतएवंरूसकेमजबूतआर्थिकसंबंधोंकोविविधताप्रदानकरनेकेअवसरमुहैयाकरातेहैं।’’‘तास’संवादसमितिनेपुतिनकेसहयोगीयूरीउशाकोवकेहवालेसेबतायाकिभविष्यमेंइसयार्डपरनिर्मितपोतोंका‘‘प्रयोगभारतसमेतवैश्विकबाजारमेंरूसीतेलऔरद्रवितप्राकृतिकगैसपहुंचानेमेंकियाजाएगा’’।रूसीसंवादसमितिकेअनुसाररोसनेफ्ट,रोसनेफ्टगाजऔरगजप्रॉमबैंककासंघ‘फारईस्टर्नशिपबिल्डिंगएंडशिपरिपेयरसेंटर’मेंज्वेज्दापोतयार्डकानिर्माणकररहाहै।यार्डकेदौरेकेबाददोनोंनेतापूर्वीआर्थिकमंचकेइतर20वींभारत-रूसवार्षिकशिखरवार्ताकरेंगे।रूसएशियाईदेशोंकेसाथसाझेदारीमजबूतकरनेकेलिए2015सेइसकीमेजबानीकररहाहै।कुमारनेट्वीटकिया,‘‘यहनिजीतालमेलमजबूतसाझेदारीकोरेखांकितकरताहै।राष्ट्रपतिपुतिननेप्रधानमंत्रीनरेंद्रमोदीकाव्लादिवोस्तोकमेंउनकी30वींबैठककेलिएस्वागतकिया।भारतऔररूसकेसंबंधदोनोंराजधानियोंकेरिश्तोंतकहीसीमितनहींहैऔरवेअबनएमोर्चोंपरविकसितहोरहेहैं।’’शिखरवार्तामेंदोनोंनेताओंकेबीचखाड़ीक्षेत्रमेंअफगानशांतिवार्ताएवंस्थितिसमेतकईअहमक्षेत्रीयमामलोंपरचर्चाहोनेकीउम्मीदहै।दोनोंपक्षोंकेबीचअन्वेषणएवंदोहनऔरखरीदारीकेसंदर्भमेंतेलएवंगैसक्षेत्रमेंसहयोगकीसंभावनाओंकेसंबंधमें2019से2024केलिएपांचवर्षीयरूपरेखाबनाएजानेकीउम्मीदहै।इससमय,भारतऊर्जासंबंधीअपनीआवश्यकताओंकेलिएखाड़ीक्षेत्रपरकाफीनिर्भरकरताहै।विदेशसचिवविजयगोखलेनेकहाकिभारतरूसकोहाइड्रोकार्बनकेएकप्रमुखस्रोतकेरूपमेंदेखरहाहैताकिखाड़ीक्षेत्रपरउसकीपूर्णनिर्भरतासमाप्तहोसके।दोनोंनेताशंघाईसहयोगसंगठन(एससीओ),ब्रिक्सजैसेबहुपक्षीयसंगठनोंमेंसहयोगबढ़ानेकेतरीकेतलाशनेपरभीविचारकरसकतेहैं।इससेपहले,प्रधानमंत्रीमोदीकारूसकीतीसरीद्विपक्षीययात्रापरव्लादिवोस्तोकहवाईअड्डापहुंचनेपरगर्मजोशीसेस्वागतकियागया।उन्हेंहवाईअड्डेपरगॉर्डऑफऑनरदियागया।रूसरवानाहोनेसेपहलेमोदीनेकहाथाकिवहपुतिनकेसाथपरस्परहितोंकेक्षेत्रीयऔरअंतरराष्ट्रीयमुद्दोंपरचर्चाकरनेकोलेकरउत्साहितहैं।उन्होंनेअपनीदोदिवसीययात्रापररवानाहोनेसेपहलेनयीदिल्लीमेंएकबयानमेंकहाथा,‘‘मैंअपनेमित्रराष्ट्रपतिपुतिनकेसाथहमारेद्विपक्षीयसंबंधोंतथाआपसीहितोंसेसंबंधितक्षेत्रीयएवंअंतरराष्ट्रीयमुद्दोंकेसभीआयामोंपरचर्चाकोलेकरआशान्वितहूं।’’मोदीनेकहाथा,‘‘मैंपूर्वीआर्थिकमंचकीबैठकमेंहिस्सालेनेवालेवैश्विकनेताओंकेसाथमुलाकाततथाइसमेंहिस्सालेनेवालेभारतीयउद्योगोंएवंकारोबारीप्रतिनिधियोंसेचर्चाकोलेकरभीउत्सुकहूं।’’उन्होंनेकहाथाकियहमंचरूसकेसुदूरपूर्वीक्षेत्रमेंकारोबारएवंनिवेशअवसरोंकेविकासपरजोरदेनेतथाइसक्षेत्रमेंभारतऔररूसकेबीचसाझालाभकेलियेसहयोगबढ़ानेकाव्यापकअवसरप्रदानकरताहै।प्रधानमंत्रीमोदीनेयात्रासेपहले‘तास’कोदियेएकसाक्षात्कारमेंकहाथाकिउनकेऔरपुतिनकेबीच‘‘विशेषतालमेल’’है।उन्होंनेकहाकिवहप्रौद्योगिकीहस्तांतरणचाहतेहैंताकिदोनोंदेशअन्यदेशोंकोसस्तीदरोंपरनिर्यातकरनेकेलिएसैन्यउपकरणबनासकें।मोदीनेकहा,‘‘मैंआश्वस्तहूंकियहयात्रानयेरास्तेपरलेजाएगी,नयीऊर्जादेगीऔरहमारेदेशोंकेबीचसंबंधोंकोनयीगतिप्रदानकरेगी।’’तासकीएकखबरमेंकहागयाहैकिपूर्वीआर्थिकमंच(ईईएफ)सेइतरहोनेवाली20वींरूस-भारतशिखरबैठककेदायरेमेंदोनोंदेशकरीब15दस्तावेजोंपरहस्ताक्षरकरनेवालेहैं,जिनमेंकुछदस्तावेजसैन्य-प्रौद्योगिकीक्षेत्रोंसेसंबंधितभीहोंगे।