Category Hierarchy

संवादसहयोगी,विकासनगर:जनप्रतिनिधियोंकीकार्यशैलीसेनाउम्मीदहुएढ़करानीकेकिसानोंनेउन्हेंआईनादिखानेकाकामकियाहै।किसानोंनेआपसीसहयोगवमेहनतसेक्षेत्रकीलगभगदोसौबीघाजमीनकीसिचाईकेलिएएकछोटाबांधबनादिया।उनकाकाकहनाहैकिपानीकीकमीसेजूझरहेक्षेत्रकेकिसानजनप्रतिनिधियोंसेअपनीसमस्याकेसमाधानकीमांगकरतेरहे,लेकिनउन्हेंसबजगहसेमायूसीहीमिली।

गंगभेवा-बावड़ीकेप्राकृतिकस्त्रोतसेनिकलनेवालापानीढकरानीगांवकीलगभगदोसौबीघाजमीनकीसिचाईकाबड़ामाध्यमहै।बावड़ीकेतालाबोंसेहोतेहुएबाहरनिकलनेवालापानीसिचाईगूलकेमाध्यमसेयमुनानदीकेकिनारेतकफैलेलंबे-चौड़ेकृषिभूमीकेक्षेत्रोंतकपंहुचताहै।बतातेचलें,यहांसेनिकलनेवालेपानीसेक्षेत्रकीलगभगदोसौबीघाजमीनकीसिचाईकीजातीहै।लेकिनगंगभेवाबावड़ीकेपासपानीकोएकत्रितकरकेयहांसेगूलकेमाध्यमसेखेतोंतकलेजानेकीव्यवस्थानहींहोनेकेकारणक्षेत्रकेकिसानपिछलेकाफीसमयसेबावड़ीकेपासपानीकोएकत्रितकरनेकेलिएएकछोटासाबांधबनानेकीमांगस्थानीयजनप्रतिनिधियोंसेकरतेआरहेथे।किसानचौधरीराकेश,चौधरीसुदेशकुमार,चौधरीहुकमसिंह,चौधरीधीरसिंह,चौधरीरकमसिंह,चौधरीईलम,नजीर,नसीम,मोनू,सुरेशपाल,जसबीर,ज्ञानसिंह,रिजवान,सलीम,अलीहसन,सरवरबलजीत,राकेशआदिकाकहनाहै,वेइससंबंधमेंक्षेत्रीयविधायकसेलेकरसभीजनप्रतिनिधियोंकेघरतकगए,लेकिनउनकीसमस्यापरकिसीनेभीसकारात्मकजवाबनहींदिया।उन्होंनेसबजगहसेमायूसहोकरखुदहीपानीकीव्यवस्थाकेलिएआवश्यकनिर्माणकरानेकीठानी।किसानोंनेआपसमेंआर्थिकसंसाधनजुटाकरलगभग50फीटलंबाबांधबनादिया।किसानोंनेनसिर्फनिर्माणमेंआर्थिकसहयोगकिया,बल्किनिर्माणस्थलपरश्रमदानभीकिया।निर्माणकार्यपूराहोजानेपरकिसानोंनेखुशीजाहिरकरतेहुएकहाहै,आपसीसहयोगसेकराएगएनिर्माणकेबादअबउनकीफसलोंकोपानीकीदिक्कतोंसेनिजातमिलजाएगी।