Category Hierarchy

रोहतास।रोहतासजिलाकीनईपीढ़ीकैमूरपहाड़ीकेजंगलमेंएकबाघरहताथाकिकहानीअबनहींसुनेगी।बल्किइसजंगलमेंबाघरहतेहैंकिहकीकतलोगोंकोबताएगी।कैमूरकेजंगलकोटाइगररिजर्वक्षेत्रघोषितकरनेकीप्रारंभिकपहलशुरूहोनेसेअबजंगलकेराजाकेअच्छेदिनआनेकीसंभावनाप्रबलहोगईहै।वनविभागलगातारइसजंगलमेंबाघोंकीआवाजाहीहोनेकापुख्तासबुतराष्ट्रीयबाघसंरक्षणप्राधिकरण(एनटीसीए)कोउपलब्धकरारहाहै।यहीनहींमध्यप्रदेशकेटाइगररिजर्वक्षेत्रसेकैमूरवन्यजीवआश्रयणीतकटाइगरकॉरिडोरबनानेकीपहलभीहोरहीहै,ताकियहांकेजंगलोंमेंबाघआकरस्वच्छंदविचरणकरें।एनटीएसएकीमंजूरीमिलनेकेबादयहांफिरजंगलकाराजाबाघअपनाराजभीस्थापितकरेगा।

कैमूरपहाड़ीकेघनेजंगलोंमेंचारदशकपूर्वतकबाघोंकेहोनेकीबातपूर्वमुखियावजोन्हागांवनिवासी90वर्षीयजगदीपउरांवबतातेहैं।यदुनाथपुरकेनवलेशसिंहकहतेहैंकियहांकाफीसंख्यामें1975-76तकबाघथे।पेड़ोंकेकटने,वनमाफियावनक्सलियोंकीआवाजाहीसेकईवन्यप्राणियोंकीसंख्याकोसमाप्तकरदिया।हालकेवर्षोंमेंमाफियावनक्सलियोंपरकसेशिकंजेसेइसक्षेत्रमेंबाघोंकीआवाजाहीफिरबढ़गईहै।कईबारउनकेपदचिह्नवउनकेद्वारात्यागकिएगएमलभीमिलेहैं।इसीकोलेकरवनपर्यावरणएवंजलवायुपरिवर्तनविभागद्वाराकैमूरवन्यप्राणीआश्रयणीक्षेत्रकेविकासकीयोजनाबनाईगईहै।

बाघकीआवाजाहीकापुख्तासबूत

नवंबर2019मेंतिलौथूक्षेत्रमेंपहलीबारबाघकेपंजोंकेनिशानवमलप्राप्तहुआथा,जिसकेबादमलकोदेहरादूनस्थितवाइल्डलाइफइंस्टीट्यूटऑफइंडियाकीप्रयोगशालामेंभेजजांचकराईगईथी।जहांसेइसकीपुष्टिभीहुई।जांचमेंपंजेकेनिशानभीबाघकेहीपाएगएहैं।वनअधिकारीबतातेहैंकिमध्यप्रदेशकेटाइगररिजर्वक्षेत्रसेबाघयहांआते-जातेरहेहैं।इसक्षेत्रमेंवाटरहोलबनाबाघोंकोपेयजलउपलब्धकरायाजारहाहै।

टाइगररिजर्वक्षेत्रघोषितहोनेसेबनजाएगाटूरिज्मस्पॉट

वनअधिकारियोंकाकहनाहैकिटाइगररिजर्वक्षेत्रघोषितहोजानेकेबादयहक्षेत्रभीटूरिज्मस्पॉटकेतौरपरविकसितहोसकेगा।कैमूरवन्यक्षेत्रकाइलाका1800वर्गकिमीसेज्यादाहै।यहांतेंदुआ,लकड़बग्घासहितकईअन्यजंगलीजानवरभीपाएजातेहैं।मध्यप्रदेशकेटाइगररिजर्वक्षेत्रऔरझारखंडकेबेतलाटाइगररिजर्वक्षेत्रसेभीइसकासीधाकॉरिडोरबनताहै।

कैमूरपहाड़ीजंगलबाघोंकेलिएसुरक्षितस्थलहै।लगातारबाघोंकीआवाजाहीहोरहीहै।इसकापुख्ताप्रमाणभीएनटीसीएकोउपलब्धकराटाइगररिजर्वक्षेत्रबनानेकीपहलशुरूकीगईहै।पहलेभीयहांकेजंगलोंमेंबाघविचरणकरतेथे।इसवन्यक्षेत्रकेरोहतास,तिलौथू,चेनारी,औरैयावभुड़कुड़ापहाड़ीपरभीबाघकेपदचिह्नवउनकीआवाजाहीदेखीगईहै।यहांबाघकाविचरणकरतेहुएतस्वीरभीऑटोमेटिककैमरेसेलीगईहै।बाघोंकीआवाजाहीबनीरहे,इसकेलिएजंगलमेंकईजगहवाटरहोलबनायागयाहै।विभागकाप्रयासहैकिटाइगररिजर्वक्षेत्रघोषितहोनेपरफिरयहांबाघदहाड़ेंगे।

प्रद्युम्नगौरव