Category Hierarchy

मधुबनी।सरकारीस्वास्थ्यसंस्थानोंमेंआधुनिकउपकरणोंकेसाथस्वास्थ्यसुविधाएंआर्थिकरूपसेकमजोरलोगोंकेलिएवरदानसाबितहोरहीहै।वहीं,जिलेमेंप्राइवेटस्वास्थ्यसंस्थानोंमेंअतिआधुनिकउपकरणकेसाथबेहतरस्वास्थ्यसेवाउपलब्धहोरहाहै।स्वास्थ्यसेवाकेक्षेत्रमेंदोवर्षोमेंबड़ापरिवर्तनधरातलपरदिखनेलगाहै।कोरोनाकीपहलीलहरकेएकदशकपूर्वसेसरकारीस्वास्थ्यसंस्थानोंकोबेहतरबनानेकीकोशिशकापरिणामदेखनेकोमिलरहाहै।कोरोनाकीपहलीलहरमेंजिलेकेसरकारीस्वास्थ्यसंस्थानोंकोआधुनिकसंसाधनोंसेलैसकरदिया।जिलेमेंपांचऑक्सीजनप्लांट,वेंटिलेटरजैसीसुविधाएंमिलनेलगा।

सदरअस्पतालसहितपांचस्वास्थ्यसंस्थानोंपरआक्सीजनकीव्यवस्थाबहाल:

कोरोनाकीदूसरीलहरमेंस्वास्थ्यसेवाकेक्षेत्रमेंसंसाधनोंकाभरपूरइजाफाहुआ।जिलेकेकोविडकेयरसेंटरकोचुस्त-दुरुस्तबनायागया।ऑक्सीजनकीकमीकोदूरकरनेकीठोसपहलहुई।सदरअस्पतालसहितजिलेकेपांचस्वास्थ्यकेंद्रोंपरआक्सीजनप्लांटकीसुविधाबहालकीगईहै।सदरअस्पतालमेंएकहजारलीटरप्रतिमिनटउत्पादनवालेऑक्सीजनप्लांटस्थापितकियागयाहै।इसप्लांटसेसदरअस्पतालकेविभिन्नवार्डके60बेडतकऑक्सीजनआपूर्तिबहालहोरहीहै।अस्पतालकेइन60बेडमेंकैदीवार्डकेदोबेड,ऑर्थोवार्डके20बेड,मेडिकलवार्डके12बेड,शिशुवार्डकेसातबेड,इमरजेंसीसीवार्डकेरूमनंबरएकमेंतीनवरूमनंबरदोकेपांचबेड,महिलावार्डमें11बेडपरशामिलहै।सदरअस्पतालकेआक्सीजनप्लांटसेरिफलिगभीहोगी।जिससेअन्यजिलोंकोभीआक्सीजनकालाभमिलेगा।सदरअस्पतालकेऑक्सीजनप्लांटसेपाइपलाइनकाकंट्रोलरूमबनायागयाहै।इसकेअलावाजयनगरअनुमंडलीयअस्पताल500,फुलपरासमें400,झंझरपुरमें400वअररियासंग्राममें300एलपीएमप्लांटकीस्थापनाकीगई।सिविलसर्जनडॉ.सुनीलकुमारझानेबतायाकिसदरअस्पतालकाआक्सीजनप्लांटपूरीतरहतैयारहै।जिलेकेअन्यचारऑक्सीजनप्लांटकाकार्यपूराहोगयाहै।

आरटीपीसीआरजांचहुआसुलभ:

जिलेकेरामपट्टीपारामेडिकलकॉलेजमेंआरटीपीसीआरलैबसेकोविडसैंपलकीजांचशुरूहोगईहै।वर्तमानमेंलैबसेप्रतिदिनएकहजारसैंपलकीजांचहोरहीहै।बतादेंकि14दिसंबर2021कोमुख्यमंत्रीनीतीशकुमारद्वारायहांकेआरटीपीसीआरलैबकाआनलाइनशुभारंभकियागयाथा।

आयुष्मानकार्डकेजरिएसभीसरकारीअस्पतालऔरपांचप्राइवेटहास्पिटलमेंस्वास्थ्यसेवाबहाल:

आयुष्मानभारतयोजनागरीबोंकेस्वास्थ्यसेवाकेलिएलाभकारीसाबितहोरहाहै।जिलेकेनिजीक्षेत्रमेंस्वास्थ्यसेवाकेलिएमधुबनीमेडिकलकॉलेज,क्रिब्सहास्पिटल,हरसनहॉस्पिटल,मांउग्रतारानेत्रालयवआस्थासर्जिकलअस्पतालआयुष्मानभारतकेतहतसूचीबद्धहै।इसकेअलावाआयुष्मानभारतकेतहतजिलेकेएकदर्जनऔरनिजीस्वास्थ्यसंस्थानोंकोसूचीबद्धकरनेकीप्रक्रियाचलरहीहै।आयुष्मानभारतकार्डकेजरिएजिलेकेपांचनिजीसंस्थानोंमेंसालानाकरीबछहहजारलोगोंकोस्वास्थ्यसुविधाउपलब्धकराईजारहीहै।वहींजिलेकेसभीसरकारीअस्पतालोंमेंआयुष्मानभारतकेतहतस्वास्थ्यसेवामुहैयाकराईजारहीहै।इधर,आर्थिकरूपसेकमजोरजिलेमेंनिबंधित33हजार124मजदूरोंकोबेहतरस्वास्थ्यसेवाकेलिएआयुष्मानकार्डबनाईकीप्रकियाशुरुकीगईहै।इनमजदूरोंकाआयुष्मानकार्डकेजरिएउन्हेंपांचलाखरुपयेतककेमुफ्तइलाजकीसुविधाहोगी।हरसनहॉस्पिटलकेडायरेक्टरसंजीवकुमारनेबतायाकिउनकेयहांआयुष्मानकार्डपरजेनरलसर्जरीऔरजेनरलमेडिसिनसेवाउपलब्धकराईजारहीहै।

----------------------------------------

स्वास्थ्यसेवाकेक्षेत्रमेंसामनेआईसामाजिकसंस्थानोंकीभूमिका

जासं,मधुबनी:स्वास्थ्यसेवाकेक्षेत्रमेंसामाजिकसंस्थानोंकीअहमभूमिकासामनेआतीरहीहै।जरूरतमंदोंकोप्राथमिकअतिआवश्यकस्वास्थ्यसेवाकेलिएलोगबढ़-चढ़करहिस्सालेतेरहेहै।खासकरकोरोनाकेपहलीवदूसरीलहरमेंऑक्सीजनकीकिल्लतकोदूरकरनेकेलिएजिलेकेकईसंस्थानोंनेजरूरतमंदोंकोऑक्सीजन,मास्क,सैनिटाइजरकीसुविधाबहालकरनेमेंआगेरहेहैं।इसदिशामेंमारवाड़ीयुवामंचकाप्रयासअहमरहाहै।मंचकेअध्यक्षरवीनकुमारमुरारकानेबतायाकिकोरोनाकीदूसरीलहरमेंऑक्सीजनकीकमीदूरकरनेकेलिएमंचपांचआक्सीजनसिलिडरकेद्वारादोदर्जनलोगोंकोऑक्सीजनकीसुविधाबहालकीगई।सचिवमाधवसर्राफ,कोषाध्यक्षरंजनअग्रवालनेबतायाकिजिलेमेंदसहजारमास्क,600सैनिटाइजरकावितरणकियागया।सदरअस्पतालतथाकोविडकेयरसेंटरको150पीपीइकिटमुहैयाकरायागया।