Category Hierarchy

औरंगाबाद।मेहनतकीबदौलतकिसानोंनेबंजरजमीनपरहरियालीलादीहै।बाहरकीनौकरीछोड़युवकखेतीकररहेहैं।खेतीसेकिसानोंकोलाभमिलरहाहै।नीमाचतुर्भुजगांवकेकिसानोंनेकीरब60बीघामेंसब्जीकीजैविकखेतीकियाहै।अन्यराज्योंमेंप्राइवेटनौकरीछोड़किसानजैविकखेतीसेअच्छीआमदनीकररहेहैं।

पपीता,केला,अमरूद,आम,हल्दीकीखेतीकररहेहैं।करीबपांचबीघासेमेंगेंदाकेफूलकीखेतीहै।फूलोंकीगंधसेइलाकासुगंधितहै।पैक्सअध्यक्षसच्चिदानंद¨सहनेबतायाकिमैंनेकरीबछहबीघाजैविकखेतीकीहै।पांचकट्टामेंफूललगायाहै।प्रतिदिनपांचहजारसेअधिककीआमदनीहोतीहै।पूर्वमुखियाविनयकुमार¨सह,सुबोध¨सह,आत्माकेअध्यक्षशिवरंजनशर्मा,सुबोधकुमार¨सह,वार्डसदस्यसंजयशर्मा,कृषिसलाहकारमेघनाथचौधरीएवंमनोजकुमारनेबतायाकिइसगांवकेकिसानदिन-रातमेहनतकरतेहैं।जिसभूमिपरअभीजैविकखेतीहोरहीहैपहलेपूरीतरहबंजरथा।किसानोंनेमेहनतकीबदौलतसेबंजरभूमिकोहरियालीमेंबदलदियाहै।इसगांवकेउपजकिएगएसब्जीएवंफलऔरंगाबादनबल्किदूसरेजिलेएवंराज्यतकजाताहै।सुबहमेंगयाएवंअन्यजगहोंपरसब्जीजानेकेलिएपीकअपवैनखड़ीहोजातीहै।कहाकियहां¨सचाईकीसमस्याहै।मोटरकीबदौलतखेतीकीजातीहै।सरकारकोचाहिएकिकिसानोंकोउचितदामपरउन्नतबीजमिले।

बाजारसेकिसानज्यादादामपरबीजखरीदतेहैंपरंतुउपजबेहतरनहींहोपातीहै।सरकारीनौकरीसेसेवानिवृत्तहोनेकेबादरामपुकार¨सह,रामसुंदर¨सहएवंरामाश्रय¨सहअबभीखेतीकरतेहैं।तीनोंमिलकरयुवाओंकोखेतीकेलिएप्रोत्साहितकरतेहैं।