Category Hierarchy

जागरणसंवाददाता,हिसार

कुछदिनोंपहलेबारिशवबीच-बीचमेंमौसमकेबदलावपरनमीबढ़नेसेग्वारकीफसलपरसफेदमक्खीवहरातेलाकाप्रभावबढ़नाशुरूहोगयाहै।किसानरसायनोंकाप्रयोगकररहेहैं,मगरजानकारीकेअभावमेंकृषिरसायनोंकाप्रयोगकरनापर्यावरणवस्वास्थ्यपरदुष्प्रभावडालरहाहै।इसलिएकिसानोंकोकीटोंवबीमारियोंकोठीकसेपहचानकरआवश्यकतानुसारदवाओंकाउचितचयनकरकेप्रयोगकरनाचाहिए।

यहबातसेवानिवृतग्वारविज्ञानीडा.बीडीयादवनेकही।वेजिलेकेगांवगोरछीमेंग्वारफसलपरस्वास्थ्यप्रशिक्षणशिविरकोसंबोधितकररहेथे।सेवानिवृतवरिष्ठकृषिविज्ञानीडा.आरएसढुकियाकीदेखरेखमेंआयोजितशिविरमेंकिसानोंकोग्वारकीमुख्यबीमारीकेलक्षणवउनकीरोकथामकेबारेंमेंजागरूककियागया।

सहीजानकारीनहींहैअभीतकसभीकिसानोंको

ग्वारफसलमेंबीमारियोंकाप्रकोपकरीबन25-30फीसदआनेकेबादहीकिसानस्प्रेकरतेहैं,उससमयतकपैदावारमेंकाफीनुकसानहोचुकाहोताहै।इसबातसेकिसानपूरीतरहसहमतथे।इससेलगताहैकिइसक्षेत्रकेकिसानोंकोग्वारबीमारियोंकेलक्षणतथाउनकीरोकथामकीसहीजानकारीअभीतकपूरीनहींहै।डा.ढुकियानेकिसानोंसेआग्रहकियाकिदवाईखरीदतेसमयदवाविक्रेतासेपक्काबिलअवश्यलेंतथाबिलपरबैचनंबरअवश्यलिखवाएं।इसकेअलावाबोतलपरदवाकीसमाप्तितिथिदेखकरहीदवाखरीदें।बीमारीकोकैसेपहचाने

जीवांणुअंगमारीरोगकीशुरूआतीअवस्थामेंकिनारीसेपत्तोंकापीलाहोनातथाबादमेंधीरे-धीरेपत्तोंकीकिनारीकालीहोजातीहै,अधिकबारिषहोनेपरमौसममेंज्यादानमीबढ़नेसेपत्तोंकाज्यादातरहिस्साकालाहोजाताहैतथारूईजैसाफफूंदभीलगजाताहै।आगेचलकरपत्तोंकेज्यादातरहिस्सेपरफंगसकारूपधारणकरलेताहै।इसतरहकीबीमारीकीअवस्थापैदावारकोघटानेमेंसबसेज्यादानुकसानदायकहै।इसतरहकीस्थितिआनेसेपहलेइसबीमारीकीरोकथामबहुतजरूरीहै।डा.यादवनेरंगीनचार्टकेमध्यामसेकिसानोंकोग्वारकीबीमारियोंकेबारेमेंअवगतकराया।

बीमारीकीरोकथामकैसेकरें

जीवाणुअंगमारीवफंगसरोगकीरोकथामकेलिए30ग्रामस्ट्रैप्टोसाईक्लिनव400ग्रामकापरआक्सीक्लोराईडको200लिटरपानीमेंमिलाकरप्रतिएकड़छिड़कावकरें।अगरइनबीमारियोंकेसाथहरातेलावसफेदकीड़ोंकाप्रकोपहोतोउसकीरोकथामकेलिए250मिलीलीटरमैलाथियोन-50ई.सी.याडाइमेथोएट(रोगोर)30ई.सी.प्रतिएकड़उपरोक्तघोलमेंमिलाकरपहलाछिड़कावबिजाईके40-45दिनपरतथाअगलास्प्रेइसके12-15दिनअन्तरालपरकरें।इसअवसरपरसेवानिवृतकृषिविज्ञानियोंडा.जगदेवसिंहनेखरीफफसलोंकीजलसंरक्षणवखादप्रबंधनकेबारेंमेंजानकारीदी।शिविरमेंमौजूद60किसानोंकोपंाचस्ट्रैप्टोसाईक्लिनपाऊचतथास्प्रेकेनुकसानसेबचनेकेलिएहरकिसानकोमास्कभीदिएगये।इसअवसरपरमास्टरसीताराम,सतबीरसिंह,दलबीरसिंह,भगीरथ,नसीर,पृथ्वीसिंह,दलीपसिंहतथायासींनआदिकिसानमौजूदरहे।