Category Hierarchy

सोनियागांधीनेअपनेबयानमेंकहा,कंपकपातीठंडऔरबरसातमेंदिल्लीकीसीमाओंपरअपनीमांगोंकेसमर्थनमें39दिनोंसेसंघर्षकररहेअन्नदाताओंकीहालतदेखकरदेशवासियोंसहितमेरामनभीबहुतव्यथितहै।आंदोलनकोलेकरसरकारकीबेरुखीकेचलतेअबतक50सेअधिककिसानजानगंवाचुकेहैं।कुछनेतोसरकारकीउपेक्षाकेचलतेआत्महत्याजैसाकदमभीउठालिया,लेकिनबेरहममोदीसरकारकानतोदिलपसीजाऔरनहीआजतकप्रधानमंत्रीयाकिसीभीमंत्रीकेमुंहसेसांत्वनाकाएकशब्दनिकला।

सोनियानेकहा,मैंसभीदिवंगतकिसानभाईयोंकेप्रतिअपनीश्रद्धांजलिअर्पितकरतेहुएप्रभुसेउनकेपरिजनोंकोयहदुखसहनेकीशक्तिप्रदानकरनेकीप्रार्थनाकरतीहू।उन्होंनेकहा,आज़ादीकेबाददेशमेंयहपहलीऐसीअहंकारीसरकारसत्तामेंआईहैजिसेदेशकापेटभरनेवालेअन्नदाताओंकीपीड़ाऔरसंघर्षभीदिखाईनहींदेरहा।उन्होंनेआरोपलगाया,लगताहैकिमुट्ठीभरउद्योगपतिऔरउनकामुनाफ़ासुनिश्चितकरनाहीइससरकारकामुख्यएजेंडाबनकररहगयाहै।

सोनियागांधीनेकहाकि,लोकतंत्रमेंजनभावनाओंकीउपेक्षाकरनेवालीसरकारेंऔरउनकेनेतालंबेसमयतकशासननहींकरसकते।अबयहबिल्कुलसाफहैकिमौजूदाकेंद्रसरकारकी'थकाओऔरभगाओकीनीतिकेसामनेआंदोलनकारीधरतीपुत्रकिसानमजदूरघुटनेटेकनेवालेनहींहैं।सोनियागांधीनेकहा,अबभीसमयहैकि(नरेंद्र)मोदीसरकारसत्ताकेअहंकारकोछोड़करतत्कालबिनाशर्ततीनोंकालेक़ानूनवापसलेऔरठंडएवंबारिशमेंदमतोड़रहेकिसानोंकाआंदोलनसमाप्तकराए।यहीराजधर्महैऔरदिवंगतकिसानोंकेप्रतिसच्चीश्रद्धांजलिभी।उन्होंनेकहाकि(केंद्रकी)मोदीसरकारकोयहयादरखनाचाहिएकिलोकतंत्रकाअर्थहीजनताएवंकिसान-मज़दूरोंकेहितोंकीरक्षाकरनाहै।

मध्यप्रदेशमेंपत्थरबाजोंपरनकेलकसनेकीतैयारीमेंशिवराजसरकार,लाएगीसख्तकानून