Category Hierarchy

रायबरेली:रोजगारकीतलाशमेंलोगोंकेपलायननेकामगारोंकासंकटखड़ाकरदियाथा।जिसकाखामियाजासबसेअधिककिसानभुगतरहेथे।हालांकि,दूसरेकामकाजमेंभीलोगोंकोदिक्कतेंआतीथीं।लॉकडाउनकेबादअपनेघरकोलौटेप्रवासीअबइससमस्याकासमाधानकरतेनजरआरहेहैं।

बातचाहेखेतीबाड़ीकीहोयाफिरदूसरेकामकी।मेहनतीमजदूरोंकामिलनामुश्किलहोरहाथा।सबसेबड़ीदिक्कतकिसानोंकेसामनेथी।जिन्हेंनिराईसेलेकरढुलाईतककेकामकीखातिरएकगांवसेदूसरेगांवचक्करलगानेपड़तेथे।इसमामलेमेंअबकीबारकिसानोंकेचेहरोंपरकुछसुकूनदेखनेकामिलरहाहै।

खेतीकरानीहोयाघरबनवानाहो।बिनाश्रमिकोंकेयहकामसंभवहीनहीं।जिलेसेश्रमिकोंकेलगातारपलायनकेकारणइनमेंबड़ीदिक्कतेंआरहींथीं।बेढ़नलगनीहोयाफसलकटानीहो।गांवोंकेचक्करकाटनेकेबादभीकामगारनहींमिलतेथे।कुछऐसाहीशहरऔरदूसरेकस्बोंमेंलगनेवालीमंडीमेंहोताथा।देखतेहीदेखतेसारेमजदूरकामपरचलेजाते।लॉकडाउनमेंप्रवासियोंकेलौटनेकेबादइससमस्याकेदूरहोनेकीआशादिखरहीहै।

कहानीकिसानोंकीजुबानी

जगतपुरकेजयप्रकाशकाकहनाहैकिभलेहीखेतीकेतमामकाममशीनोंसेहोजातेहों,लेकिनअबभीश्रमिकोंकेबिनाकामचलनहींपाता।शिवगढ़केरामअभिलाषबतातेहैंकिजबकभीफसलकटनीहोतीहैतोकईदिनपहलेसेमजदूरोंकोकहनापड़ताथा।डलमऊब्लॉकक्षेत्रकेरंजीतपुरलोनारीनिवासीसुरेशत्रिवेदीनेबतायाकिखेतीमेंअगर,मशीनोंकाप्रयोगबढ़ाहैतोइसकेपीछेकीएकवजहश्रमिकोंकीकमीभीहै।