Category Hierarchy

सुशीलभाटिया,फरीदाबाद:राष्ट्रीयराजधानीक्षेत्रयोजनाबोर्ड(एनसीआरबी)नेएनसीआरकेलिएजारीमास्टरप्लान-2041केमसौदे(ड्राफ्ट)मेंकुछप्रविधानोंकोशामिलकरनेसेइसकासीधाप्रतिकूलप्रभावऔद्योगिकनगरीपरपड़नेकीआशंकाएंप्रबलहोगईहैं।इसकासीधाअसरअरावलीकेउसहरे-भरेवनक्षेत्रपरपड़ेगा,जोराजस्थानकेरेगिस्तानक्षेत्रसेआनेवालीधूलभरीहवाओंकोरोककरऔद्योगिकनगरीकेलिएआक्सीजनहबकाकामकरताहै।

अरावलीकेसंरक्षणमेंजुटीसंस्थासेवअरावलीसंस्थाकेसदस्यकैलाशबिधूड़ीकेअनुसारराजस्थानकेरेगिस्तानक्षेत्रसेआनेवालीधूलभरीहवाओंकोरोकनेमेंअरावलीकेवनप्राकृतिकबैरियरकेरूपमेंकामकरतेहैं।हरतरहकीपरिस्थितियोंमेंइसकासंरक्षणजरूरीहै।अबपिछलेदिनोंजबअपनेशहरकानामप्रदूषणकेमामलेमेंदेश-दुनियाकेप्रमुखशहरोंमेंशुमारहुआऔरवायुगुणवत्तासूचकांकयानीएक्यूआईबार-बार400केभीपारजातारहा,तोअबअंदाजालगाओकिअगरअरावलीवनक्षेत्रसेपेड़कटजाएंगे,तबक्याहालहोगाअपनेशहरका।इससेतोहमसभीसबकलेनेकीजरूरतहै,जबकिजोमसौदातैयारकियाजारहाहै,उससेस्पष्टहैकिअपनीसुविधाअनुसारअरावलीसेकुछभीछेड़छाड़करलो।सरकारकोइसबारेमेंगंभीरतासेसोचनाचाहिएऔरइसकेसंरक्षणकीदिशामेंप्रभावीकदमउठानेचाहिए।यहसर्वविदितहैऔरइतिहासकोखंगाललो,तोस्पष्टहैकिजब-जबप्राकृतिकसंसाधनोंसेज्यादाछेड़छाड़कीगई,तब-तबआपदाआईहै।अरावलीसेअवैज्ञानिकढंगसेलाखोंटनपत्थरनिकालकरखननमाफियानेअपनेघरभरेहैं,परकभीउसकेसंरक्षणकेलिएकुछनहींकिया।पत्थरखननकेलिएभीतयमापदंडथाकिजहांसेजितनापत्थरनिकालाजाएवहांमिट्टीसेइसकीभरपाईकीजाएमगरअबघायलअरावलीमें150से200फीटगहरेगड्ढेदिखाईदेतेहैं।राजस्थानकाअलवरजिलागुरुग्रामजिलासेसटाहै।यदिरेगिस्तानकीधूलभरीहवाओंकोरोकनेकेलिएअरावलीपर्वतमालाजैसाप्राकृतिकबैरियरनहोंतोपूरेदिल्लीएनसीआरकाबचावमुश्किलहै।

-रमेशअग्रवाल,संस्थापक,टीमअरावलीआजफरीदाबाद-गुरुग्रामऔरराजधानीदिल्लीमेंप्रदूषणकीजोस्थितिहै,यहदिन-प्रतिदिनबढ़तीचलीजाएगीऔरइसीपरइंसानकीआयुनिर्भरहै।अभीइंसानकीऔसतआयुजो80वर्षमानतेहैं,वोघटकर65वर्षतकआजाएगा।इसलिएअरावलीवनक्षेत्रकासंरक्षणबेहदजरूरीहै।अरावलीसेछेड़छाड़होनेकाप्रयासहोगा,तोउसकाहरस्तरपरविरोधकियाजाएगाऔरहमारातोयहभीकहनाहैकिशहरकेप्रत्येकनागरिककोइसकाखुलकरविरोधकरनाचाहिए।

-मनोजसिंह,पर्यावरणप्रेमी