Category Hierarchy

राजकुमारराजू,मोगा:किसानसरेआमपरालीकोआगलगाकरसरकारीआदेशोंकीधज्जियांधुंएमेंउड़ारहेहैं।रविवारकोगांवचड़िककोजानेवालीसड़कपरखेतोंमेंपरालीकोआगलगाईहुईथी।यहांसेगुजरनेवालोंकोकाफीपरेशानीकासामनाकरनापड़ा।रविवारकोअवकाशहोनेकेकारणपरालीकोबड़ीमात्रामेंकिसानआगलगातेहैं।दूसरीतरफकिसानबलवीरसिंहनेबतायाकिभलेहीसरकारकिसानोंकोनाड़वपरालीकोआगनहींलगानेकेलिएसमय-समयपरजागरूककरतीहैलेकिनउनकोमजबूरीवशपरालीकोआगलगानीपड़रहीहै।उन्होंनेकहाकिखेतोंमेंपरालीकोजोतनेपरबहुतखर्चहोताहै।सरकारकिसानोंकोकोईभीमुआवजानहींदेरहीहै।इसकारणमजबूरनकिसानोंकोआगलगानीपड़ीहै।खेतोंमेंअगलीफसलकीबिजाईकरनीहोतीहैऐसेमेंकिसानोंकेपासऔरभीकोईविकल्पनहींरहताहै।सरकारमुहैयाकरवाएमशीनरी

किसानहरिदरसिंहनेकहाकिपरालीकोआगलगानाकिसानोंकीमजबूरीहै।अगरसरकारकिसानोंकोपरालीकेप्रबंधनकेलिएअपनेखर्चपरमशीनरीमुहैयाकरवाएतोकिसानपरालीजलानाबंदकरदेंगे।साथहीप्रतिएकड़आर्थिकमददप्रदानकीजाए।सरकारनतोमशीनरीमुहैयाकरवातीहैतथानहीआर्थिकमददमिलतीहै।इसकारणमजबूरनकिसानोंकोधानकीपरालीकोआगलगानीपड़तीहै।वहमानतेहैकिऐसाकरनेसेखेतोंमेंफसलोंकेमित्रकीड़ेनष्टहोनेकेसाथवातावरणभीदूषितहोताहै।परालीकोहरेचारेमेंमिलाकरबनातेहैपशुचारा

श्रीकृष्णगोधामकेप्रधानएडवोकेटविनयकश्यपनेकहाकिउनकेद्वारासमयसमयपरगांवोंकेकिसानोंकीपरालीसेबनीगांठोंकोखरीदाजाताहै।इसेहरेचारेमेंमिलाकरप्रयोगमेंलायाजाताहै।कईकिसानोंद्वाराभीपरालीकोपशुचारेकेतौरपरइस्तेमालकरनेमेंकाफीरुचिदिखाईजारहीहै।इसकीबदौलतकईगांवोंमेंकिसानोंनेपरालीकीगांठेबनाकरपरालीजमाकररहेहै।ऐसेमेंसरकारकोगांठेकोबनानेकेलिएगोशालाओंवकिसानोंकोसस्तेदामपरउपकरणमुहैयाकरवानेहोगें।इससेउक्तकार्यमेंतेजीलाईजासके।

ਪੰਜਾਬੀਵਿਚਖ਼ਬਰਾਂਪੜ੍ਹਨਲਈਇੱਥੇਕਲਿੱਕਕਰੋ!