Category Hierarchy

कोरोनामहामारीकेबीचकिसानोंकीपरेशानीकमहोनेकानामनहींलेरही।कभीमंडीमेंबारदानोंकीकमीकेकारणगेहूंकीखरीदीमेंरुकावट,कभीभुगतानमेंदेरीतोकभीहम्मालोंकीकमी...।अबसरकारकेनिर्णयनेउन्हेंआर्थिकचोटदीहै।संकटमेंफंसेअन्नदाताओंकोअब1200रुपएमेंमिलनेवालीडीएपीखादकेलिए1900रुपएचुकानेहोंगे।

जानकारोंकाकहनाहैकिमहंगेहोतेरासायनिकखादकेदामसेअबकिसानोंकीलागतमेंभारीबढ़ोतरीहोनातयहै।पेट्रोल-डीजलकेबादमंहगीहुएखादकेसवालपरकिसानोंकाकहनाहैकिखेतीअबघाटेकासौदाबनरहीहै।

किसाननेताबबलूजाधवनेकहा,लगाताररासायनिकउर्वरकखादकेभावमेंबढ़ोतरीहोरहीहै।बाततोकिसानोंकीआयदोगुनीकरनेकीथी,इसकेउलटआयदोगुनीतोनहींहुई,बल्किकिसानोंकीलागतमेंबढ़ोतरीकीजारहीहै।दूसरीओरकिसानोंकोफसलोंकेउचितदामतकनहींमिलरहे।अबबढ़ेहुएरासायनिकखादकीकीमतोंसेकिसानआक्रोशितहैं।बढ़ेहुएदामतत्कालवापसलेनाचाहिए।

अबडीएपीकेलिएचुकानेहोंगे1900रुपए

किसानोंकाकहनाहै,साल2014सेपहलेप्रधानमंत्रीनरेंद्रमोदीकिसानोंकीआयदोगुनाकरनेकावादाकरतेथे।सत्तामेंआनेकेबादभीयहजारीरहा,लेकिनजमीनीहकीकतकुछऔरहै।किसाननएकृषिकानूनोंकेखिलाफ5महीनेसेज्यादासमयसेआंदोलनकररहेहैं।ऐसेमेंअबउर्वरकोंकीकीमतोंमेंइजाफाकरदियाहै।

डीएपी50किलोवालेबैगकीकीमतमें58%कीवृद्धिकीगईहै।1200रुपएमेंमिलनेवालेडीएपीकेलिएकिसानोंकोअब1900रुपएचुकानेहोंगे।देशमेंयूरियाकेबादकिसानसबसेअधिकडीएपीऔरएनपीके123216खादकाइस्तेमालकरतेहैं,एनपीकेखादकेभावबढ़कर1800रुपएप्रतिबैगहोगएहैं।

भोपालसेजारीआदेश