Category Hierarchy

नीलकमल,पटनाकांग्रेसकीओरसेकहाजारहाहैकिछत्तीसगढ़((NYAYYojanainChhatisgarh)देशकापहलाऐसाराज्यबननेजारहाहैजोकोरोनासंकटकेदौरमेंकिसानोंकोआर्थिकमदददेगा।किसानोंकीआर्थिकस्थितिसुधारनेकेलिएकिसानोंकेखातेमेंधानकेसमर्थनमूल्य2500रुपयेकेअंतरकीराशिदेकरसरकारइनकीमददकरेगी,लेकिनकांग्रेसशासितछत्तीसगढ़कीओरसेशुरूकिएगएकिसानन्याययोजनाकोलेकरबिहारमेंराजनीतिभीशुरूहोचुकीहै।कांग्रेसनेकहा-बिहारभीकरेछत्तीसगढ़काअनुसरणबिहारविधानपरिषदकेसदस्यऔरवरिष्ठकांग्रेसनेताप्रेमचंद्रमिश्रानेकहाहैकिछत्तीसगढ़मेंकांग्रेसकीसरकारनेगरीबकिसानोंकादर्दसमझाहै।छत्तीसगढ़देशकापहलाराज्यबनाहैजहांकांग्रेससरकारनेराजीवगांधीकीपुण्यतिथिपर19लाखकिसानोंकोपांचहजाररुपयेदेनेकीयोजनाशुरूकीहै।प्रेमचंद्रमिश्रानेकहाकिबिहारसरकारकोभीकांग्रेसशासितछत्तीसगढ़राज्यकीतरहयोजनाशुरूकरनाचाहिए।वर्तमानसमयमें500या1000रुपयेकीकोईवैल्यूनहींहैउसपरभीकिसानोंकोइसरकमकेलिएजिल्लतझेलनीपड़तीहै।उन्होंनेकहाकिअगरदेशकेकिसीभीराजनीतिकदलकीओरसेशासितराज्यमेंकोईअच्छीयोजनाकाक्रियान्वयनकियाजाताहैतोदूसरेराज्यकोभीइसेअपनानाचाहिए।सभीराजनीतिकदलयासरकारजनताकीसेवाकेलिएहीकामकरतेहैं।ऐसेमेंअच्छीयोजनाकोलेकरराजनीतिकरनेकेबजायइसेइम्प्लीमेंटकरनेकीजरूरतहोतीहै।इसेभीपढ़ें:-बिहारकेरणमें'न्याय'साबितहोगाट्रंपकार्ड?छत्तीसगढ़न्याययोजनापरबिहारकेकृषिमंत्रीकाप्रहारबिहारकेकृषिमंत्रीप्रेमकुमारकाकहनाहैकिकोरोनासंक्रमणकालमेंभीकांग्रेसजैसीपार्टियांसिर्फराजनीतिकरने,लोगोंकोडरानेऔरधोखादेनेकाकामकररहीहैं।उन्होंनेकहाकिछत्तीसगढ़मेंकांग्रेसकायहढिंढ़ोरापीटाजानाकिवोकिसानोंकोपांच-पांचहजाररुपयेदेनेजारहीहै।कांग्रेसकोशायदयहपतानहींकिप्रधानमंत्रीनरेंद्रमोदीकीसरकारपिछलेपांचसालमेंकिसानोंकेलिएजितनाकामकियाहै,कांग्रेसनेसाठसालमेंनहींकियाथा।चाहेवोकिसानोंकोलागतकाडेढ़गुनादेनेकीबातहोयाकिसानसम्माननिधिकीबात,हरतरहसेकिसानोंकेलिएऐतिहासिककामकिएगएहैं।इसकेअलावाप्रधानमंत्रीनरेंद्रमोदीकीओरसेकोरोनासंकटकालमें20लाखकरोड़रुपएकेआर्थिकपैकेजमेंभीकिसानोंकेलिएकाफीकुछकियागयाहै।इसेभीपढ़ें:-छत्तीसगढ़कीNYAY:आपकेकामकीसारीडिटेलकृषिमंत्रीनेकांग्रेसकोदिखायाआंकड़ाकृषिमंत्रीप्रेमकुमारनेकहाकिसिर्फबिहारमेंहीलॉकडाउनकेदौरान70लाखकिसानोंकेखातेमें1408करोड़रुपयेभेजेगएहैं।बिहारमेंपिछलेखरीफकेमौसममेंकुछक्षेत्रोंमेंअचानकआईबाढ़औरकुछक्षेत्रोंमेंसुखाड़कीवजहसेफसलोंकोहुएनुकसानकीभरपाईकेलिए15लाख24हजार786किसानोंकेखातेमें647करोड़75लाख40हजाररुपयेकाभुगतानकियागया।इसरबीमौसममेंअसामायिकबारिश,आंधी,ओलावृष्टिकेकारणफसलकोकाफीनुकसानपहुंचाहै।कृषिविभागनेफौरनकिसानोंकेक्षतिपूर्तिकेलिएअनुदानदेनेकाप्रवधानकियाहै।इसीप्रकारफरवरीमाहमें11जिलोंके44प्रखंडमें31हजार929हेक्टेयरमेंफसलकीक्षतिहुईथीजिसमेंअभीतक1लाख49हजार909किसानोंकेखातोंमें45करोड़66लाख70हजाररुपयेभेजेजाचुकेहैं।'हमकामकररहेहैं,कांग्रेसढ़िढ़ोरापीटरही'बिहारसरकारनेकईकिसानोंको31हजाररुपयेतककीक्षतिपूर्तिअनुदानदियाहै।यहीवजहहैकिबिहारकेकृषिमंत्रालयकोपूरेदेशमेंसर्वाधिकफसलउत्पादनकेलिएपांचराष्ट्रीयकृषिकर्मणकापुरस्कारमिलचुकाहै।कांग्रेसपांचहजारकाढिंढोरापीटरहीहै,जबकिबिहारसरकारखाद्यान्नफसलोंकेलिएन्यूनतम13हजार500रुपयेप्रतिहेक्टेयरऔरसब्जीबागवानीकेलिएप्रतिहेक्टेयर18हजार500रुपयेकिसानोंकोदेरहीहै।लेकिननातोकेंद्रनेढिंढ़ोरापीटाऔरनाहीबिहारसरकारढिंढ़ोरापीटरहीहै।ऋणवापसीपरकिसानोंकोढगनेवालीकांग्रेसक्याकरेगीन्याय-जेडीयूछत्तीसगढ़मेंभूपेशबघेलकीसरकारकीओरसेशुरूहुईराजीवगांधीकिसानन्याययोजनापरतंजकसतेहुएजेडीयूनेताऔरप्रवक्ताराजीवरंजनप्रसादनेकहाकियहयोजनाभीकिसानोंकेसाथधोखाहीसाबितहोगा।जेडीयूकाकहनाहैकिमध्यप्रदेश,राजस्थानऔरछत्तीसगढ़मेंकिसानोंकोऋणवापसीकाझांसादेकरसत्तामेंआईकांग्रेसनेकिसानोंकेसाथधोखाकिया।अबछत्तीसगढ़़मेंकिसानन्याययोजनालाकरएकबारफिरकिसानोंकोठगनेकीकोशिशकीजारहीहै।राजीवरंजननेकहाकिपहलेतोकांग्रेसकोयहबतानाचाहिएकिउनकेशासितराज्योंमेंकिसानोंकीऋणवापसीकेवादेकाक्याहुआ।जेडीयूनेतानेयहभीकहाकिछत्तीसगढ़मेंशुरूकीगईकांग्रेसकीनईयोजनाकाकितनालाभसहीहाथोंतकपहुंचताहैयहभीदेखनादिलचस्पहोगा।कांग्रेसकाचाल-चरित्रऔरफितरतरहीहैउसेदेखतेहुएछत्तीसगढ़कीयोजनापरभीअभीसेहीसंदेहउत्पन्नहोरहाहै।