Category Hierarchy

-लाचारवबेबसमरीजोंकोयातोग्रामीणचिकित्सकोंकीशरणमेंजानापड़ताहैयाकईकिलोमीटरदूरसुपौलयापिपराइलाजकेलिएभटकनापड़ताहै

संवादसूत्र,कटैया-निर्मली(सुपौल):मात्रकहनेकोयहसरकारीअस्पतालहै,लेकिनकोरोनाकेकहरकेबीचभीइसकीहालतनहींसुधरी।बातहोरहीहैअतिरिक्तप्राथमिकस्वास्थ्यकेंद्रहटवरियाकी।तीनदशकपूर्वतकइसस्वास्थ्यकेंद्रकीभीहस्तीथी।सुबहसेशामतकमरीजोंकाआना-जानालगारहताथा।डॉक्टरसेलेकरनर्सतककीव्यवस्थाहरसमयउपलब्धरहतीथीलेकिनअबखुदअस्तित्वकीरक्षाकेलिएसंघर्षकररहाहै।विभागीयउपेक्षासेयहबदहालहोगयाहै।सरकारीस्तरपरयहांकेलोगोंकीजरूरतसमझनेकाप्रयासकभीभीनहींकियागया।बड़े-बड़ेनेतावअधिकारीआतेहैं,अस्पतालकीहालतदेखसुधारकाआश्वासनजरूरजनताकोदेतेहैंपरंतुविडंबनाकिजनताकोअबतकसिवाआश्वासनकेझुनझुनेकाकुछनहींमिला।जहांमरीजोंकाइलाजहोनाचाहिएवहअस्पतालखुदबीमारहै।ऐसेमेंलाचारवबेबसमरीजोंकोयातोग्रामीणचिकित्सकोंकीशरणमेंजानापड़ताहैयाकईकिलोमीटरदूरसुपौलयाफिरपिपराइलाजकेलिएभटकनापड़ताहै।आर्थिकरूपसेकमजोरमरीजचाहकरभीअपनाइलाजनहींकरापातेहैं।

-------------------------------------------

क्याकहतेहैंग्रामीण

इसस्वास्थ्यकेंद्रमेंव्याप्तकुव्यस्थापरकामेश्वरसिंह,मनिठाकुर,मुकेशसिंह,प्रमोदमंडल,सूर्यनारायणमंडल,श्रवणसिंह,रामानंदपासवान,विजयसिंह,मदनमंडल,भागवतमंडल,कमलेशराय,इंद्रभूषणठाकुर,रंजीतठाकुर,महेशराय,बलवीरयादव,विजयसाहसहितदर्जनोंलोगोंनेबतायाकि1934मेंइसस्वास्थ्यकेंद्रकीस्थापनाकीगईथी।उससमयइसेमलेरियासेंटरकेनामसेजानाजाताथा।1956मेंतत्कालीनविधायकलहटनचौधरीनेइसस्वास्थ्यकेंद्रकाउद्घाटनकिया।उससमयस्वास्थ्यकेंद्रकीस्थापनासेलोगोंमेंखुशीथीकिअबइलाजकेलिएबाहरनहींजानापड़ेगा।कुछसालोंतकतोसबकुछठीक-ठाकचलालेकिनजैसे-जैसेसमयबीततागयावैसे-वैसेहीयहस्वास्थ्यकेंद्रपूरीतरहसेसुविधाविहीनहोगया।जबकियहइलाकापूरीतरहसेपिछड़ाऔरगरीबतबकेकेलोगोंकाहै।यहांदवातोउपलब्धकराईजातीहैमगरग्रामीणोंकोदवामिलतीहीनहीं,जिसकीवजहसेयहांकेग्रामीणझोलाछापडाक्टरोंकेचंगुलमेंफंसअपनाइलाजभगवानभरोसेकरवारहेहैं।लोगोंनेबतायाकिइसस्वास्थ्यकेंद्रमेंस्वास्थ्यकर्मीहैं,जोयहांड्यूटीपररहतेहीनहींहैंऔरनहीस्वास्थ्यविभागद्वाराकिसीतरहकाकोईस्वास्थ्यपखवाराकाहीआयोजनकियाजाताहै।जबकिइसस्वास्थ्यकेंद्रमेंव्याप्तकुव्यवस्थाकीसूचनाहमलोगोंद्वाराबार-बारविभागीयअधिकारियोंएवंजनप्रतिनिधियोंकोदीगईहैमगरआजतकस्थितिजसकीतसहै।इसपंचायतकेतमामग्रामीणोंकोइलाजवखासकरप्रसवपीड़ितगरीबमहिलाओंकोघोरदिक्कतोंकासामनाकरनापड़रहाहै।

-------------------------------------------

चिकित्सकऔरस्वास्थ्यकर्मियोंकाटोटा

अतिरिक्तप्राथमिकस्वास्थ्यकेंद्रमेंएमबीबीएससंवर्गकेडॉक्टरकाएकपदसृजितहै।वर्तमानमेंयहांएकएमबीबीएसचिकित्सकनियुक्तभीहैंलेकिनफिलहालवेकोरोनासेपीड़ितमरीजजोहोमआइसोलेशनमेंहैंउनकीजांचकेलिएदूसरीजगहहै।इसकेअलावाएकआयुषचिकित्सकस्वास्थ्यकेंद्रमेंनियुक्तहैंलेकिनवेभीफिलहालकोविडसेंटरमेंप्रतिनियुक्तहैं।एकभीमहिलाचिकित्सकनहींहोनेकेकारणमहिलारोगियोंकोकाफीपरेशानीहोतीहै।दोएएनएमहैंजोटीकाकरणमेंआतीहै।दोचतुर्थवर्गीयकर्मचारीकेभीदोपदस्वीकृतहै।सरकारीस्तरपरयहांकेलोगोंकीजरूरतसमझनेकाप्रयासकभीनहींकियागया।ऑक्सीजनसिलेंडर,पेयजल,पैथोलॉजी,एक्सरेएवंएंबुलेंसकेअभावकेबीचयहांआकस्मिकस्थितिसेनिबटनेकीकोईव्यवस्थानहींहोनेकीखामियाजालोगोंकोभुगतनापड़ताहै।स्वास्थ्यकेंद्रमेबिजलीतोहैलेकिनपेयजलकीकोईव्यवस्थाहैनहींहैऔरनाहीमरीजोंकेलिएबेडकीव्यवस्थाहै।दोदोशौचालयबनकरतैयारहैलेकिनउसमेंतालालटकारहताहैजिससेकिस्वास्थ्यकर्मी,एएनएमसहितमरीजोंकोपरेशानीकासामनाकरनापड़ताहै।

एएनएमकेआवासपरचलताहैनिर्मलीउपस्वास्थ्यकेंद्र

इसीपंचायतकेनिर्मलीमेंस्वास्थ्यउपकेंद्रहै।कबइसकीस्थापनाहुईतथाकहांइसकाभवनबनाहुआहैयहजानकारीभीयहांकेलोगोंकोनहींहै।जिसकारणयहाँकेलोगोंकोस्वास्थ्यसुविधानहींमिलपातीहै।गांवकेबुजुर्गोंनेबतायाकिएएनएमरेखाकुमारीकेआवासीयपरिसरमेंउपस्वास्थ्यकेद्रनिर्मलीकेनामसेबोर्डलगाहुआहै।फिलहालउनकेघरपरहीयहकेंद्रचलताहै।ग्रामीणोंनेबतायाकिआजतकस्वास्थ्यउपकेंद्रसेपेटदर्दकीदवाभीनसीबनहींहुईहै।

-------------------------------------------क्याकहतेहैंप्रभारीचिकित्सापदाधिकारी

प्रभारीचिकित्साप्रभारीडॉ.जेपीसाहनेबतायाकिमरीजोंकोबेहतरसुविधादेनेकीहरसंभवकोशिशरहतीहै।उन्होंनेकहाकिचिकित्सककीकमीहोनेकेकारणभीपरेशानीहोतीहै।मरीजोंकोबेहतरस्वास्थ्यसुविधादेनेकोलेकरअस्पतालप्रशासनगंभीरहै।रिक्तपदोंपरबहालीएवंमहिलाचिकित्सककीपदस्थापनाकेलिएविभागकाध्यानआकृष्टकरायागयाहै।फिलहालसभीचिकित्सककोरोनामहामारीकोरोकनेकेलिएमरीजोंकोबेहतरस्वास्थ्यसेवादेरहेहैं।