Category Hierarchy

सुरेंद्रप्रसादसिंह,नईदिल्ली।मानसूनकीदेशव्यापीसक्रियतासेभलेहीचौतरफाज्यादाबारिशहुईहोलेकिनसरकारीआंकड़ोंकेमुताबिक,उत्तरीक्षेत्रकेबांधऔरजलाशयोंकाजलस्तरअभीभीपिछलेएकदशककेऔसतसेभीनीचेहै।उत्तरीक्षेत्रकेराज्यहिमाचलप्रदेश,पंजाबऔरराजस्थानमेंसामान्यसेकमबरसातहुईहैजबकिदेशकेबाकीहिस्‍सोंमेंजमकरबारिशहोरहीहै।केंद्रीयजलआयोगदेशके123बांधएवंजलाशयोंकेजलस्तरकीनिरंतरनिगरानीकरताहै।इनमेंसे43ऐसेजलाशयहैं,जिनसेपनबिजलीकाउत्पादनकियाजाताहै।

गंगा,कृष्णा,कावेरीसमेतकईनदियोंकेबेसिनमेंपर्याप्तपानी

प्रत्येकजलाशयमेंस्थापितहाइड्रोपावरप्लांटकीउत्पादनक्षमता60मेगावाटअथवाइससेअधिकहै।आयोगकीताजारिपोर्टकेमुताबिकगंगा,नर्मदा,ताप्ती,गोदावरी,महानदी,कृष्णा,कावेरीसमेतदक्षिणीक्षेत्रकीनदियोंकेबेसिनमेंपर्याप्तपानीउपलब्धहै।जबकिसिंधुनदीकेबेसिनमेंपानीकास्तरसामान्यसेकमदर्जकियागयाहै।हालांकिसितंबरमेंहोनेवालीअच्छीबरसातकीसंभावनाकेमद्देनजरउम्मीदजताईजारहीहैकिउत्तरीक्षेत्रकेबांधएवंजलाशयोंमेंपानीकास्तरबढ़सकताहै।इनजलाशयोंसेउत्तरीराज्योंकीनहरोंमेंजहांसिंचाईकापानीमिलताहैवहींबिजलीकाउत्पादनभीकियाजाताहै।

उत्तरीक्षेत्रकेबांधोंमें91फीसदपानी

उत्तरीक्षेत्रकेदायरेमेंआनेवालेआठबांधआतेहैं,जोहिमाचलप्रदेश,पंजाबऔरराजस्थानमेंस्थितहैं।केंद्रीयजलशक्तिमंत्रालयकीबांधऔरबैराजोंकेजलस्तरपरजारीताजारिपोर्टकेमुताबिकइनजलाशयोंवबांधोंकेजलस्तरकीनिगरानीकेंद्रीयजलआयोगकरताहै।चालूसप्ताहतकइनबांधोंमेंकुल14.52बिलियनक्यूबिकमीटर(बीसीएम)पानीहै।यहइनबांधोंकीकुलभंडारणक्षमताका76फीसदहै।इसकेमुकाबलेपिछलेसालइसीअवधितकइनबांधोंमें91फीसदपानीभराहुआथा।जबकिपिछलेदससालोंमेंइनजलाशयोंमेंभरेपानीकाऔसत81फीसदरहाहै।

पूर्वीक्षेत्रकेबांधलबालब

चालूसीजनमेंकमबरसातऔरनदियोंकाजलस्तरकमहोनेकीवजहसेइनजलाशयोंवबांधमेंपानीकमभरपायाहै।इसकेमुकाबलेपूर्वीक्षेत्रकेझारखंड,उड़ीसा,पश्चिमबंगाल,त्रिपुराऔरनगालैंडके18बांधवजलाशयोंमेंजलस्तरपिछलेसालकेहीनहींबल्कि10सालोंकेऔसतसेभीअधिकहोगयाहै।लगातारहोरहीबारिशसेजलस्तरऔरबढ़सकताहै।पश्चिमीक्षेत्रकेगुजरातऔरमहाराष्ट्रके42बांधवजलाशयोंमेंभीपिछलेसालकेसाथ10सालोंकेऔसतसेभीअधिकपानीभरचुकाहै।

मध्यक्षेत्रकेजलाशयोंमेंपर्याप्‍तपानी

मध्यक्षेत्रकेराज्यउत्तराखंड,उत्तरप्रदेश,मध्यप्रदेशऔरछत्तीसगढ़मेंकुल19बड़ेबांधऔरजलाशयहैं,जिनकाजलस्तरपररिकार्डस्तरकोछूनेलगाहै।इनकीभंडारणक्षमताका86फीसदपानीभरचुकाहै।दक्षिणीक्षेत्रकेआंध्रप्रदेश,तेलंगाना,कर्नाटक,केरलऔरतमिलनाडुके36बांधऔरजलाशयोंमेंपर्याप्तपानीभरचुकाहै।उनकीकुलक्षमताका80फीसदपानीभरचुकाहै,जोअबतककासर्वाधिकहै।