शामली, जागरण टीम। जल संरक्षण मौजूदा समय में बेहद जरूरी हो चुका है। भूजल की सेहत में सुधार के लिए तालाबों को संजोना बेहतर विकल्प है। जिले के पांचों ब्लाक डार्क जोन में हैं, लेकिन ऊन क्षेत्र के चौसाना में जल संरक्षण के साथ तालाबों का जीर्णोद्धार व सौंदर्यकरण कर इनसे रोजगार भी मिल रहा है। क्षेत्र में पहले तालाब की दुर्दशा थी, लेकिन सरकारी योजना से इसे संवारा गया। यही वजह है कि अब तालाब जल संरक्षण के साथ मत्सय पालन भी किया जा रहा है। इससे सरकार को राजस्व व अन्य लोगों को रोजगार भी मिल रहा है।